'; } else { echo "Sorry! You are Blocked from seeing the Ads"; } ?>

Bike Insurance Kaise Kare | Types of Bike Insurance in Hindi

अपने दोस्तों के साथ शेयर करें

Bike Ka Online Insurance Kaise Kare and Types of bike insurance in Hindi? Different types of bike insurance in India? हमारी आए दिन की जिंदगी में यातायात और वाहनों का अत्याधिक महत्व है।

बिना परिवहन के तो जिंदगी की कल्पना भी करना डरावना प्रतीत होता है। भारत में रोड बहुत छोटे छोटे हैं। जिनकी वजह से दुर्घटना का डर हमेशा बना रहता है। आज हम आपको बाइक इंश्योरेंस पॉलिसीज के बारे में बताने वाले हैं। कि आप किस प्रकार किसी दुर्घटना में हुई बाइक के नुकसान की भरपाई कर सकते हैं।

इस आर्टिकल पर हम बाइक इंश्योरेंस पॉलिसीज के हर पहलू पर बात करेंगे। तो चलिए जानते हैं।

Bike Insurance Kaise Kare | Types of Bike Insurance in Hindi

बाइक इंश्योरेंस पॉलिसी क्या है – Bike Insurance Policy in Hindi

बाइक इंश्योरेंस पॉलिसी कंपनी और मालिक के बीच में एक प्रकार का एग्रीमेंट होता है। जिसके तहत कंपनी और मालिक के बीच में यह तय होता है की यदि किसी प्रकार की दुर्घटना में बाइक में नुकसान हो जाता है। या फिर आपकी बाइक सड़क दुर्घटना में क्षतिग्रस्त हो जाती है। तो कंपनी आपको क्षति के विरुद्ध वित्तीय सहायता प्रदान करती है।

मोटर वाहन अधिनियम 1988 के तहत आपके पास थर्ड पार्टी बाइक इंश्योरेंस होना अनिवार्य है। यह इंश्योरेंस आपको भारतीय सड़कों पर होने वाली दुर्घटना में आपको फाइनेंशियल हेल्प प्रदान कराता है। यदि आप के पास थर्ड पार्टी बाइक इंश्योरेंस नही है तो आपको जुर्माना भी देना पड़ सकता है।

इंश्योरेंस पॉलिसी कितने प्रकार की होती है – Types of Bike Insurance in Hindi OR Different Types of Bike Insurance in India

भारत में, कानूनन दोपहिया वाहन बीमा खरीदना अनिवार्य है। दुर्घटना के कारण होने वाले नुकसान के खिलाफ वित्तीय सुरक्षा प्राप्त करने के लिए बीमा महत्वपूर्ण है। आपको किस प्रकार का कवर ( एक्सीडेंट के समय क्षतिपूर्ति) मिलता है, यह आपके द्वारा चुनी गई बीमा योजना के प्रकार पर निर्भर करता है।

आज, भारत में बीमा कंपनियाँ लोगों की अलग-अलग ज़रूरतों के अनुरूप अलग-अलग बीमा योजनाएँ पेश करती हैं। यदि आप अपने दोपहिया वाहन के लिए बीमा कवर खरीदना चाहते हैं, तो आपको समावेशन और बहिष्करण (inclusions and exclusions) जानने के लिए विभिन्न बीमा कंपनियों की नीतियों की तुलना करनी चाहिए।

भारत में दोपहिंया वाहनों के लिए दो प्रकार के इंश्योरेंस होते हैं। “Bike Ka Online Insurance Kaise Kare and Types of bike insurance in Hindi? Different types of bike insurance in India?”

इसे भी पढ़े – Insurance Kya Hai (बीमा क्या है)? बीमा कितने प्रकार के होते हैं?

1. तृतीय-पक्ष देयता बीमा – थर्ड पार्टी इंश्योरेंस

तृतीय-पक्ष देयता बीमा एक मूल कवर प्रदान करता है; यह तीसरे पक्ष की शारीरिक चोटों और उनके वाहन को हुए नुकसान से होने वाले नुकसान से बचाता है। मोटर वाहन अधिनियम, 1988 के अनुसार तीसरे पक्ष की देयता बीमा को अनिवार्य ( compulsory) किया गया है।

इस इंश्योरेंस पॉलिसी में तीसरा आदमी (थर्ड पार्टी) शामिल होता है। जो आपकी कार से हुई दुर्घटना में घायल होता है। यह प्रत्यक्ष रूप से इंश्योरेंस कर्ता के लिए कोई लाभ नहीं देता।

2. व्यापक बीमा –

एक व्यापक दोपहिया बीमा पॉलिसी, तीसरे पक्ष को हुई क्षति के साथ-साथ स्वयं की क्षति को भी कवर करती है। खुद की क्षति की घटनाएं प्राकृतिक आपदाएं के समय में, या आपकी बाइक चोरी हो जाए, या फिर किसी दंगे या आतंकवादी गतिविधि या यात्रा के दौरान हुई क्षतिग्रस्त हो जाए। तो आपको कंपनी की तरफ से आपको कवर दिया जाएगा।

यह बात याद रखने योग्य है कि यह कवर आपको उन ही घटनाओं के बदले मिलता है, जो या तो प्राकृतिक हों या फिर मानव निर्मित ,जो महज संयोग हो।

यदि आप शराब या नशीली दवाओं के प्रभाव में हैं, तो इसमें कंपनी आपको व्यक्तिगत सामान की हानि, दुर्घटनावश नुकसान या वाहन को नुकसान होने पर सुरक्षा कवर प्रदान नहीं करती है।

व्यापक बीमा कवरेज आपको क्षतिपूर्ति का पूरा दावा करता है। यदि आपकी कार किसी दुर्घटना में क्षतिग्रस्त हो जाती है। आप अपनी कार को कंपनी के किसी गैराज में ठीक करासकते हैं।

यदि दुर्घटना आपको विकलांगता या मृत्यु की स्थिति में पहुंचा देती है। तो व्यापक बीमा आपकी सुरक्षा करता है। यदि कोई दुर्घटना स्थायी विकलांगता का कारण बनती है। तो व्यापक बीमा कवरेज आपकी वित्तीय सहायता करता है।

इसे भी पढ़े – Mintpro Insurance Kaise Kare | Mintpro Insurance Company List

Different types of Bike insurance in India

1. फर्स्ट पार्टी इंश्योरेंस: (First Party Insurance)

फर्स्ट पार्टी इंश्योरेंस जीरो डेप्थ के साथ करवाया जाता है। फर्स्ट पार्टी इंश्योरेंस में आपको कई सुविधाएं दी जाती हैं। और यह है सबसे अच्छा इंश्योरेंस माना जाता है। क्योंकि फर्स्ट पार्टी इंश्योरेंस लगभग सारी तरह की घटनाओं को कवर करता है।

फर्स्ट पार्टी इंश्योरेंस के अंतर्गत यदि आपकी गाड़ी में कोई टूट-फूट होती है। या फिर आपकी गाड़ी में किसी प्रकार का नुकसान होता है। यह जिसकी गाड़ी में आप ने टक्कर मारी है।

उसकी गाड़ी में नुकसान होता है, या फिर आपको शारीरिक चोट पहुंचती है। तो कंपनी ही इसके लिए आपको कवर करेगी और इसका काम कंपनी को कराना पड़ेगा।

2. सेकंड पार्टी इंश्योरेंस (Second Party Insurance)

द्वितीय पक्ष – जिस कार बीमा कंपनी से कार मालिक या First Party कार बीमा खरीदता है। उसे Second Party कहा जाता है। यह Second Party है। जो किसी भी नुकसान या क्षति के मामले में First Party (कार मालिक) की कार को वित्तीय सुरक्षा प्रदान करने का वादा करती है।

3. थर्ड पार्टी इंश्योरेंस (Third Party Insurance)

तृतीय-पक्ष देयता बीमा एक मूल कवर प्रदान करता है। यह तीसरे पक्ष की शारीरिक चोटों और उनके वाहन को हुए नुकसान से होने वाले नुकसान से बचाता है। मोटर वाहन अधिनियम, 1988 के अनुसार तीसरे पक्ष की देयता बीमा को अनिवार्य (compulsory) किया गया है।

इस इंश्योरेंस पॉलिसी में तीसरा आदमी (थर्ड पार्टी) शामिल होता है। जो आपकी कार से हुई दुर्घटना में घायल होता है। यह प्रत्यक्ष रूप से इंश्योरेंस कर्ता के लिए कोई लाभ नहीं देता। “Different types of Bike insurance in India”

Own Damage Policy

ऑन डैमेज व्हीकल इंश्योरेंस पॉलिसी के तहत आपको बीमा कंपनी की तरफ से दुर्घटना में हुई नुकसान की भरपाई को ही दिया जाता है। कंपनी आपकी कार में हुए कुल नुकसान की ही भरपाई करती है। इसके अलावा आपको कंपनी की तरफ से कोई अन्य सेवा नहीं दी जाती। इसे (Own Damage Policy) कहा जाता है।

इसे भी पढ़े – ACKO Mobile Insurance Kaise Kare? ACKO Mobile Insurance Kya Hai?

बाइक का ऑनलाइन इंश्योरेंस कैसे करें? (Bike Ka Online Insurance Kaise Kare in Hindi) bike ka insurance kaise kare in hindi

क्या आप समय पर बीमा लोन कराते हैं? इंश्योरेंस के कई तरह के फायदे होते हैं। सबसे अच्छा फायदा तो यही होता है कि यदि किसी कारणवश आपकी गाड़ी क्षतिग्रस्त हो जाती है। तो उसका नुकसान की भरपाई कंपनी के द्वारा कर दी जाती है। और आपकी पैसे और समय की दोनों की बचत हो सकती है।

कई बार ऐसा होता है कि हम खुद तो कार खूब अच्छे से चला रहे होते हैं। मगर कोई सामने से ही बंदा कार में टक्कर मार देता है। जिसकी वजह से बाइक या कार में काफी नुकसान हो जाता है। जो बहुत महंगा पड़ता है। इसलिए हमें अपनी बाइक या कार का इंश्योरेंस जरूर कराना चाहिए। यदि हमारे पास इंश्योरेंस नहीं है। तो पुलिस हमारा चालान भी कर सकती है।

तो चलिए दोस्तो जानते हैं की bike insurance kaise kare।

पहला कदम

सबसे पहले आपको गूगल पर जाना है। और वहां ऑनलाइन इंश्योरेंस सर्च करना है। उसके बाद आपको कई कंपनियों के इंश्योरेंस मिल जाएंगे। जिन्हें आप ऑनलाइन ही खरीद सकते हैं। मगर ध्यान रहे कि पहले कंपनी के नियम और शर्तों को जरूर जान लें। और अन्य कंपनियों से कंपनी के इंश्योरेंस के बारे में अच्छे से जाने और तुलना करें। तभी जाकर कोई दूसरा स्टेप ले।

कंपनी का आप इंश्योरेंस लेना चाहते हैं उसकी वेबसाइट पर क्लिक करने पर कई प्रकार की इंश्योरेंस पॉलिसी मिलेंगी। आप कौन में से बाइक इंश्योरेंस पॉलिसी पर क्लिक करना है। उसके बाद इंश्योरेंस पॉलिसी के लिए आपको दूसरे पेज पर रीडायरेक्ट किया जाएगा।

दूसरा कदम

यहां आपको अपने वाहन (बाइक) के बारे में बेसिक जानकारी देनी होंगी। जैसे की मोटरसाइकिल का मॉडल, निर्माता कंपनी का नाम, ईंजन की क्षमता और रजिस्ट्रेशन का साल आदि जानकारी आपको देनी होंगी।

जब यह जानकारी वेबसाइट पर डाल दोगे तो उसके बाद बीमा कंपनी आपको उसका बीमा करने में खर्च होने वाले रकम (कोटेशन) की जानकारी देगी।

तीसरा कदम

यदि आप कंपनी के द्वारा मांगे जा रही कोटेशन की रकम से संतुष्ट हैं। तो आपको आगे बढ़ना चाहिए। जिसके लिए आप कौन नेक्स्ट बटन का ऑप्शन मिलेगा। आपको उस पर क्लिक कर कर अगले स्टेप पर जाना है। अगले स्टेप में आपको अपनी व्यक्तिगत जानकारी जैसे कि नाम रहने का स्थान लिंग इत्यादि के बारे में जानकारी दे नहीं होती है।

उसके बाद आपको अपने मोबाइल नंबर को भी देना पड़ता है। व्यक्तिगत जानकारी के बाद आपको अपने दोपहिया वाहन की पूरी जानकारी देनी होती है। जैसे कि वाहन का चेचिस नंबर, मॉडल, वाहन की कीमत, रजिस्ट्रेशन नंबर, वाहन को निर्मित करने वाली कंपनी का नाम इत्यादि के बारे में जानकारी देनी होती है

चौथा कदम

इस स्टेप के बाद आपको कंपनी के नियम और शर्तों के बारे में बताया जाएगा। जिनको आप ध्यान से पढ़ें यदि आप कंपनी के नियम और शर्तों से सहमत हैं। तो आई एक्सेप्ट वाला बटन दबाएं और का इंश्योरेंस पॉलिसी के लिए आगे वाले स्टेप पर जाएं।

पांचवा कदम

यह सबसे आखरी स्टेप होता है। जिसमें आपको पेमेंट मॉड चुनना होता है। पेमेंट मॉड चुनने के बाद आपको कंपनी को पेमेंट करना पड़ता है। पेमेंट करने के तुरंत बाद ही आपका पॉलिसी मोड चालू हो जाता है। और इसका आप प्रिंट भी ले लीजिए। यदि आप प्रिंट नहीं लेते हैं तो कंपनी से ही डाक सेवा के जरिए अपना इंश्योरेंस पॉलिसी कार्ड मंगवा सकते हैं।

दोस्तों कितना आसान है बाइक इंश्योरेंस खरीदना आप भी अपनी बाइक या अन्य वाहनों के लिए इंश्योरेंस जरूर खरीदें क्योंकि इसमें आपका ही फायदा होता है।

पालिसी बाजार से बाइक का बीमा कैसे करें  (Policy Bazaar se Bike Insurance kaise Kare)

अब हम बात करते हैं की पॉलिसी बाजार डॉट कॉम से आप इंश्योरेंस कैसे खरीद सकते हैं। यह बहुत ही सरल प्रक्रिया है। कोई भी आदमी जिसे बेसिक इंटरनेट की जानकारी होती है। वह इससे इंश्योरेंस को खरीद सकता है।

सबसे पहले आपको policybazaar.com की वेबसाइट पर जाना है। वहां आपको दो पहिया वाहन इंश्योरेंस पॉलिसी पर क्लिक करना है। क्लिक करने के बाद आपको एक नए पेज पर रीडायरेक्ट किया जाएगा।

जहां पर आपको अपनी बेसिक जानकारी देनी है। यहां आपको वही जानकारी देनी है। जैसा कि हमने ऊपर बताई है। आपका नाम, आप का रहने का स्थान, आपके वाहन का चेचिस नंबर, रजिस्ट्रेशन नंबर, मॉडल कंपनी निर्माता का नाम इत्यादि।

इसके बाद आपको अपना आरटीओ जॉन चुनना है। तत्पश्चात आपको अपनी बाइक निर्माता कंपनी और बाइक निर्माण का वर्ष सुनना है।

अब आपको विभिन्न प्रकार के इंश्योरेंस पॉलिसी दिखाई जाएंगी। जिस पॉलिसी को आप खरीदना चाह रहे हैं। आप उसको चुनिए और आगे बढ़े। इसके बाद आपसे फिर ऊपर लिखित बेसिक जानकारी ही मांगी जाएंगी।

जब आप यह जानकारी भर देंगे तो आपको पेमेंट करने के बाद आपकी ईमेल पर इंश्योरेंस पॉलिसी का डॉक्यूमेंट आ जाएगा।

Two Wheeler Insurance Policy Documents को Download कैसे करें?

दोस्तों अक्सर देखा जाता है कि ज्यादातर लोग पॉलिसी बाजार डॉट कॉम सही इंश्योरेंस खरीदते हैं यदि आप किसी दुकान पर जाकर इंश्योरेंस खरीदते हैं तो भी आप इंश्योरेंस डाक्यूमेंट्स को अपने फोन से ही डाउनलोड कर सकते हैं यह प्रक्रिया बहुत ही सरल और सहज है चले बताते हैं इसके बारे में।

पहले आपको गूगल प्ले स्टोर से पॉलिसी बाजार डॉट कॉम की एप्लीकेशन डाउनलोड करनी है।
डाउनलोड करने के बाद आपको इस एप्लीकेशन में उसी नंबर से साइन अप करना है।
जिस नंबर से आपने पॉलिसी खरीदी थी साइन अप करने के बाद एप्लीकेशन का होम पेज खुल जाएगा।

यहां पर आपको विभिन्न प्रकार की पॉलिसियों के बारे में और के प्रकार के अन्य ऑप्शन भी मिलते हैं। मगर आपको अपने पॉलिसी डॉक्यूमेंट को डाउनलोड करने के लिए सबसे नीचे की ओर देखना है।

जहां कई प्रकार के ऑप्शन मिलते हैं वहां एक ऑप्शन पॉलिसी का होता है। जब आप वहां क्लिक करोगे तो जितनी भी पॉलिसी आपने policybazaar.com से कराई है। सब दिखाई दी जाएंगी। इसके बाद आपको यही डाउनलोड का ऑप्शन भी मिलता है।

जिससे आप अपने इंश्योरेंस पॉलिसी को आसानी से डाउनलोड कर सकते हैं। हम आशा करते हैं कि आप इंश्योरेंस पॉलिसी डॉक्यूमेंट डाउनलोड करना सीख गए होंगे।

इसे भी पढ़े – Navi Health Insurance Kaise Kare | Navi Health Insurance Hospital List

Conclusion (Bike Insurance Kaise Kare?)

दोस्तों इस आर्टिकल में हमने आपको बाइक इंश्योरेंस पॉलिसी क्या है – Bike Insurance Policy in Hindi. इंश्योरेंस पॉलिसी कितने प्रकार की होती है – Types of Bike Insurance Policy in Hindi. फर्स्ट पार्टी इंश्योरेंस (First Party Insurance) सेकंड पार्टी इंश्योरेंस (Second Party Insurance) थर्ड पार्टी इंश्योरेंस (Third Party Insurance) बाइक का ऑनलाइन इंश्योरेंस कैसे करें? (Bike ka online insurance kaise kare) पालिसी बाजार से बाइक का बीमा कैसे करें – Policy Bazaar se Bike Insurance kaise Kare.

Two Wheeler Insurance Policy Documents को Download कैसे करें? bike insurance kaise kare bike ka insurance kaise kare in hindi, types of bike insurance in hindi. different types of bike insurance in india. bike ka online insurance kaise kare इत्यादि की पूरी जानकारी दी। कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा और आपको यह आर्टिकल जानकारी से भरपूर लगा होगा।

यदि आप या आपका कोई दोस्त बाइक इंश्योरेंस कराने के बारे में सोच रहा है। तो उसके पास इस पोस्ट को जरूर पहुंचाएं। ताकि उसको इंश्योरेंस पॉलिसी के के बारे में जानकारी मिल सके। यदि आपके पास कोई बात है, जो आप हमें शेयर करना चाहते हैं। तो आप कमेंट सेक्शन में शेयर कर सकते हैं। दोस्तों जानकारी कैसी लगी यह कमेंट सेक्शन में जरूर बताएं।


अपने दोस्तों के साथ शेयर करें

Check Also

Star Health Insurance Plans, Star Health Insurance Renewal, Hospital List, Login, Customer Care

Star Health Insurance Hospital List {New 2023}, Renewal, Claim Status, etc.

अपने दोस्तों के साथ शेयर करेंStar Health Insurance Plans, Star Health Insurance Renewal, Hospital List, …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!