'; } else { echo "Sorry! You are Blocked from seeing the Ads"; } ?>

Option Trading Kaise Karte Hain | Option Trading Kya Hai?

अपने दोस्तों के साथ शेयर करें

Option Trading Kya Hai in Hindi (What is Option Trading) and Option Trading Kaise Karte Hain? Option Trading Strategies for Beginners Through Zerodha App: दोस्तों पिछले कुछ सालों में भारत में रोजगार का स्तर काफी गिरा है। अधिकांश युवा आजकल बेरोजगार घूम रहे हैं। कोरोना महामारी के कारण ज्यादातर उद्योग भी पूरी क्षमता के साथ काम नहीं कर रहे हैं। जिससे बेरोजगारी की दर और भी ज्यादा बढ़ी है।

ऐसे में लोगों के सामने आजीविका का संकट खड़ा हो गया है। अब लोग पैसा कमाने के लिए नए नए विकल्पों की तलाश में है। ऐसे में लोग ऑनलाइन पैसा कमाने की ओर आकर्षित हुए है। ऑनलाइन पैसा कमाना आज के युवाओं में सबसे ज्यादा लोकप्रिय है। ऑनलाइन प्लेटफार्म रोजगार देने के मामले में सबसे पसंदीदा प्लेटफॉर्म बन कर उभरे हैं।

जब भी आप युवाओं के बीच में बैठते होंगे तो आप उनसे क्रिप्टोकरंसी स्टॉक मार्केट और ट्रेडिंग के बारे में सुनते होंगे। क्रिप्टोकरंसी शेयर मार्केट और ट्रेंडिंग जैसे नए विकल्पों ने वित्तीय मार्केट में नए अवसर प्रदान कराएं हैं। दोस्तों यह बात तो आपको पता ही होगा ट्रेडिंग मैं कामयाब होने की अपार संभावनाएं मौजूद है।

यदि आप भी ट्रेडिंग के बारे में सोच विचार कर रहे हैं, तो यह आर्टिकल आपके लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होने वाला है। आज किस आर्टिकल में हम आपको ट्रेडिंग के 1 प्रकार जिसे ऑप्शन ट्रेडिंग के नाम से जाना जाता है इसके बारे में बताएंगे। दोस्तों आइए जानते हैं Option Trading Kya Hai in Hindi?

Option Trading Kya Hai in Hindi (What is Option Trading) and Option Trading Kaise Karte Hain? Option Trading Strategies for Beginners Through Zerodha App

Option Trading Kya Hai?

युवाओं में ट्रेडिंग को लेकर एक नया ही जोश है हम सब ट्रेडिंग में पैसा इन्वेस्ट कर कर अपनी किस्मत बदलने के लिए उत्सुक हैं। मगर ट्रेडिंग में वित्तीय जोख़िम बहुत है। जिसकी वजह से पैसा इन्वेस्ट करने में हमें कई बार सोचना पड़ता है।

ऑप्शन ट्रेडिंग यह ट्रेडिंग वित्तीय मार्केट में बहुत ही सुरक्षित मानी जाती है। इसमें वित्तीय जोखिम कम होता है। जिसकी वजह से इसे बहुत ज्यादा लोगों के द्वारा पसंद किया जाता है। ऑप्शन ट्रेडिंग एक ऐसी ट्रेडिंग होती है, जिसमें आपके पास यह विकल्प होता है कि यदि आपको ट्रेडिंग में नुकसान हो रहा है तो आप इसे नुकसान से बच सकते हैं।

दरअसल ऑप्शन ट्रेडिंग मैं एक आपको प्रीमियम खरीदना पड़ता है। यह प्रीमियम आपको यह सुरक्षा देता है यदि 1 महीने के पश्चात आप के शेयर की कीमत घटती है तो आप इस घाटे से बच सकते हैं। अर्थात आप अपने शेयर को घाटे पर ना बेचे। आपको 1 महीने के पश्चात आपके शेयर्स की वैल्यू ज्यादा मिल रही है, तो आप इस स्थिति में अपने शेयर्स को बेच सकते हैं।

यह बात ध्यान देने योग्य है कि यदि आप अपनी ट्रेडिंग को खत्म करना चाहते हैं, चाहे आपको फायदा हो रहा हो या फिर नुकसान। तो इन स्थिति में आपकी प्रीमियम राशि कंपनी को चली जाती है।

इससे आपको नुकसान होने के खतरे कम होते हैं. क्योंकि यदि आप के शेयर की कीमत घटती है तो आप अपनी ट्रेडिंग को यहीं बंद कर सकते हैं। इसके लिए आपको अपने शेयर को कम दामों में बेचने की जरूरत नहीं है। हालांकि इस स्थिति में आपके प्रीमियम की राशि खत्म हो जाती है। “Option Trading Kya Hai in Hindi (What is Option Trading)”

Option Trading for Beginners

अभी हम किसी क्षेत्र में नए-नए होते हैं तो हमको उस क्षेत्र की बारीकियों का पता नहीं होता। कई बार हमको शुरू शुरू में उन महत्वपूर्ण चीजों के बारे में भी नहीं पता होता. जो इस क्षेत्र में सबसे अहम रोल अदा करती है।

इसलिए ही हमको किसी भी कार्य की शुरूआत में बहुत सोच समझकर कदम उठाना चाहिए। यदि आपको ऑप्शन ट्रेडिंग या फिर ट्रेडिंग नहीं आता है तो आपको सबसे पहले तो इसके बारे में अच्छी जानकारी ले लेनी चाहिए। कोशिश करें कि यह जानकारी किसी ऐसे दोस्त से प्राप्त करें जिस पर आपको भरोसा हो।

वैसे तो इंटरनेट और यूट्यूब पर भी ऑप्शन ट्रेडिंग के बारे में बहुत अच्छी-अच्छी वीडियो और कंटेंट आपको मिल जाएगा। जिनके माध्यम से आप ऑप्शन ट्रेडिंग सीख सकते हैं। मगर फिर भी आपको पहली बार मैं बहुत ज्यादा पैसा उसमें इन्वेस्ट नहीं करना चाहिए। क्योंकि किसी भी चीज का एक्सपीरियंस आपको उस फील्ड में जाकर ही प्राप्त होता है।

यदि आप ऑप्शन ट्रेडिंग में बिग्नेर है, तो आपको ऑप्शन ट्रेडिंग बहुत सोच समझकर करनी चाहिए। अधिकतर लोग कम वित्तीय जोखिम होने के कारण ट्रेडिंग के रूप में ऑप्शन ट्रेडिंग को इस्तेमाल करते हैं।

ऑप्शन बहुत अधिक रिटर्न दे सकते हैं और लीवरेज की शक्ति का उपयोग करके एक अपेक्षाकृत छोटी राशि को उसके मूल्य से कई गुना अधिक में बदल सकते हैं।
बहुत कम समय में ऐसा कर सकते हैं। “Option Trading Kya Hai in Hindi (What is Option Trading) and Option Trading Kaise Karte Hain? Option Trading Strategies for Beginners Through Zerodha App”

इसे भी पढ़े Paisa Kamane Wala Game 2022 (पैसा कमाने वाला गेम)

ऑप्शन ट्रेडिंग और स्टॉक मार्केट

दोस्तों जब भी हम किसी ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म की बात करते हैं तो उसमें से स्टॉक मार्केट सबसे पहले हमारे दिमाग में आती है। ऑप्शन ट्रेडिंग स्टॉक मार्केट दोनों अलग-अलग चीजें होती हैं इसलिए इनमें आपको कंफ्यूज नहीं होना चाहिए। आइए जानते हैं, ऑप्शन ट्रेडिंग स्टॉक मार्केट मैं क्या क्या अंतर है।

Stock Market

स्टॉक एक ऐसा तरीका होता है जिसमें आप छोटे-छोटे टुकड़ों में किसी कंपनी का हिस्सा बनते हैं, जब तक कंपनी बनी रहती है। तब तक आप इस कंपनी के सहयोगी बनकर रह सकते हैं। इसकी कोई समय सीमा नहीं होती। यदि कंपनी को फायदा पहुंचता है तो इस स्थिति में इसका लाभ आपको भी दिया जाता है।

यदि किसी कारणवश कंपनी को नुकसान उठाना पड़ता है, तो इस स्थिति में आपको नुकसान भी भुगतना पड़ सकता है। एक प्रकार से किसी भी कंपनी में स्टॉक खरीदने से आप उस कंपनी के सह मालिक बन जाते हैं।

अब जब कंपनी को फायदा पहुंचता है, तो यह फायदा आपको भी पहुंचेगा। कंपनी को नुकसान की स्थिति में आपको आपके हिस्से के अनुसार ही नुकसान भी पहुंचता है।

Option Trading

ऑप्शन एक ऐसा अधिकार होता है, जिसके अंतर्गत आप किसी एक स्टाफ को एक निश्चित समय सीमा के लिए एक निश्चित राशि पर खरीदते हैं। इसकी एक समय सीमा होती है और इसकी एक एक्सपायरी डेट भी होती है। अर्थात इसका एक निरंतर और फिक्स्ड जीवन होता है।

इस समय सीमा को पूरी होने के पश्चात आपको यह स्टॉक बेचना या खरीदना पड़ता है। कई स्थितियों में देखा जाता है की किसी भी ऑप्शन की वैल्यू समय के साथ घटती है. तो इस स्थिति में ग्राहक को कोई फायदा नहीं होता और उसे अपनी डील बंद करनी पड़ती है।

जिसमें उसका प्रीमियम का पैसा भी व्यर्थ चला जाता है। इस स्थिति को वेस्टिंग एसेट के नाम से जाना जाता है। “Option Trading Kya Hai in Hindi (What is Option Trading) and Option Trading Kaise Karte Hain? Option Trading Strategies for Beginners Through Zerodha App”

इसे भी पढ़े Upstox Se Paise Kaise Kamaye | Upstox Kya Hai?

Option Trading Kaise Karte Hain

तो अब बात करते हैं ऑप्शन ट्रेडिंग कैसे की जाती है। कुछ लोगों को ऑप्शन ट्रेडिंग के बारे में हल्की फुल्की जानकारी तो होती है। मगर यह कैसे की जाती है इसके बारे में नहीं पता होता। आइए जानते हैं ऑप्शन ट्रेडिंग कैसे की जाती है।

ऑप्शन ट्रेडिंग में आपको दो प्रकार के विकल्प दिखाई देते हैं। एक विकल्प को (Call) कॉल कहा जाता है। अन्य दूसरे को पुट (Put) कहा जाता है।

Call Option:

ग्राहक को यह अधिकार प्रदान करता है, कि वह शेयर को खरीद सकता है। ग्राहक को एक निश्चित समय सीमा और दरों पर किसी भी शेयर को खरीदने की मजदूरी देता है। अन्य शब्दों में कह तो यदि किसी शेयर से आपको फायदा मिल रहा है, तो इस स्थिति में आप उस शेयर को बेचना चाहेंगे। जब आप किसी शेयर को ऑप्शन ट्रेडिंग में बेचते हैं तो इसको कॉल ऑप्शन कहा जाता है।

Put Option:

पुट ऑप्शन आपको किसी भी शेयर को खत्म करने का अधिकार प्रदान करता है। यदि आपको इस कंपनी में नुकसान हो रहा है तो आपको कंपनी के नुकसान में हिस्सेदारी नहीं लेनी होती है। हालांकि आपको प्रीमियम राशि से हाथ गवाना पड़ेगा।

ऑप्शन ट्रेडिंग में आपको इन्हीं दो विकल्पों के आधार पर ट्रेडिंग करनी होती है। मान लीजिए आपने किसी कंपनी के 1000 शेयर खरीदे। (अब उदहारण के लिए मान लीजिए यह 1000 शेयर आपने 1 महीने के लिए खरीदें।) यदि कंपनी की वैल्यू 1 महीने में बढ़ती है, तो जाहिर सी बात है कि आप के शेयर्स की वैल्यू भी बढ़ेगी।

यदि आपके शेयर की वैल्यू बढ़ी तो फायदा सीधे तौर पर ही आपको पहुंचेगा। एक स्थिति यह भी हो सकती है कि कंपनी की वैल्यू अगले महीने में कम हो जाए तो, इस स्थिति में आपके शेयर की वैल्यू भी घटने लगती है। अर्थात यदि आप एक महीने बाद देखेंगे तो आप पाएंगे कि आपने जो राशि लगाई थी। उसका भी कई परसेंट नुकसान हो चुका है।

अब इस स्थिति में आपके पास कॉल और पुट का ऑप्शन होता है। यदि आपको फायदा होगा तो आप कॉल का विकल्प चुनेंगे अन्यथा आप पुट का विकल्प ही चुनेंगे। इन दोनों स्तिथियों में से जो आपके लिए फायदेमंद हो उसी स्थिति का चुनाव करें।

इसके अलावा एक स्थिति यह भी हो सकती है। आप पहले से ही कंपनी की स्थिति का एनालिसिस कर कर यह पता करने की कंपनी फायदे में रहेगी या नुकसान में। यदि आपको लग रहा है कि कंपनी को अगले महीने में फायदा होगा तो आपको कुल ऑप्शन पर राशि लगानी चाहिए।

अन्यथा यदि आपको लगता है कि कंपनी को अगले महीने में घाटा होगा तो इस स्थिति में आप पुट ऑप्शन पर भी पैसा लगा सकते हैं। “

Put और Call में ट्रेड कैसे करें?

दोस्तों अब बात करते हैं पुट और कॉल में ट्रेड कैसे करें। यह दो बहुत महत्वपूर्ण टर्म है। इनके बारे में जानकारी प्राप्त कर लेना बहुत जरूरी होता है। आइए जानते हैं इन दोनों विकल्पों के बारे में।

Put Option Trade:

जैसा कि आपको पता है ऑप्शन ट्रेडिंग में आपके पास यह विकल्प होता है कि आप एक निश्चित समय के लिए ट्रेड कर सकते हैं। इसमें आप अपना पैसा पुट या कॉल दोनों में से किसी एक पर इन्वेस्ट कर सकते हैं। यदि आपको किसी कंपनी की स्थिति से अंदाजा लग रहा है की यह कंपनी आने वाले दिनों में लॉस में जाएगी। तो इस स्थिति में आप पुट विकल्प पर अपना पैसा लगा सकते हैं। उदाहरण के लिए यदि आप अमेजॉन कंपनी के 500 शेयर खरीदे हैं। यदि आपके खरीदे गए शेयर की कीमत 50 रुपए है. और महीने के अंत में यह कंपनी की वैल्यू घटकर 25% हो जाती है, तो इस स्तिथि में भी आप अपने शेयर्स को 50% फायदे से बेच सकते हैं। क्योंकि आपने अपना पैसा पुट विकल्प पर लगाया था।

Call Option Trade:

कॉल ऑप्शन भी पुट ऑप्शन की तरह ही होता है इसमें आपको यह अंदाजा लगाना होता है कि कंपनी फायदे में जाएगी या नहीं। यदि आपको लगता है कि कंपनी को अगले कुछ दिनों में फायदा होगा तो आपको अपना पैसा कॉल ऑप्शन पर इन्वेस्ट करना चाहिए।

उदाहरण के लिए यदि आप कल कंपनी के 500 शेयर खरीदते हैं और खरीदे गए एक शेयर की कीमत ₹50 है। यदि कंपनी को अगले कुछ दिनों में फायदा हुआ और इसके 1 शेयर की कीमत 75 रुपए हो गई तो, आप अपने शेयर को 75 रुपए के हिसाब से बेच सकते हैं। “Option Trading Kya Hai in Hindi (What is Option Trading) and Option Trading Kaise Karte Hain? Option Trading Strategies for Beginners Through Zerodha App”

इसे भी पढ़े Aadhar Card se Loan Kaise Le | आधार कार्ड से लोन कैसे ले

Option Trading Strategies

दोस्तों यदि आपको ऑप्शन ट्रेडिंग मार्केट में पैसा कमाना है तो आपको इसकी स्ट्रैटेजिस के बारे में जानकारी लेना बहुत जरूरी है। किसी भी फील्ड के रणनीतियों के बारे में जानना आपके लिए सबसे महत्वपूर्ण होता है। खासकर जब यह फ़ील्ड अनिश्चितता से भरा हो और वित्तीय जोखिम का खतरा हो। इस स्थिति में आपको ऑप्शन ट्रेडिंग के बारे में पूरी जानकारी लेनी चाहिए। अब हम जानते हैं, ऑप्शन ट्रेडिंग स्ट्रैटेजिस के बारे में।

Covered Call:

ऑप्शन ट्रेड में ऐसा निवेश करने की यह एक रणनीति है। जिसके तहत आप को यह अधिकार दिया जाता है कि आप एक नया शेयर खरीद सकते हैं। कवर्ड कॉल के अंतर्गत आप अपने पहले खरीदे हुए, शेयर या फिर शेयर बेचकर अन्य शेयर खरीदने का भी अधिकार प्राप्त करते हैं। यह स्ट्रेटजी उन सिर्फ के लिए अच्छी होती है जहां पर शेयर के दामों में बहुत ज्यादा बदलाव देखने को नहीं मिलता।

Long Straddle:

यह एक ऐसी रणनीति होती है। जिसमें निवेशकर्ता लॉन्ग पुट और लॉन्ग कॉल दोनों को ही एक समान प्राइस और एक ही एक्सपायरी डेट के लिए खरीदता है। Long straddle आपको दोनों प्रकार के अधिकार प्राप्त करता है। क्योंकि यदि आपके शेयर घाटे में जाते हैं या फिर आपको फायदा पहुंचता है, तो दोनों स्थितियों में आपको अपने शेयर खरीदने या बेचने की सुविधा प्राप्त होती है। इस रणनीति को हम तब अपना आते हैं।

जब हमको मार्केट एनालिसिस करने में दिक्कत आ रही हो और हम यह निर्णय नहीं ले पा रहे हो कि बाजार मैं फायदा होगा या नुकसान। तो इस स्थिति में हम Long straddle की पॉलिसी को अपनाते हैं। “Option Trading Kya Hai in Hindi (What is Option Trading) and Option Trading Kaise Karte Hain? Option Trading Strategies for Beginners Through Zerodha App”

Long Strangle:

यह एक न्यूट्रल स्ट्रेटेजी होती है। यह असीमित लाभ क्षमता के साथ आती है। यह स्ट्रैटेजिक तब खरीदी जाती है, जब बाजार में एक बड़ी अस्थिरता आने वाली हो। Long strangles में out-of-the-money लॉन्ग कॉल खरीदना और उसी एक्सपायरी डेट के लिए out-of-the-money लॉन्ग पुट शामिल होती है।

Strategies in Option Trading

दोस्तों यदि बात की जाए ऑप्शन ट्रेडिंग में मिलने वाली सभी स्ट्रैटेजिस की तो यह कई प्रकार की होती है आपको थोड़ा बहुत उन सभी के बारे में जानना बहुत जरूरी होता है।

जब भी आप ट्रेडिंग में अपने पैर पसार तो इन सभी स्ट्रैटेजिस के बारे में जानकारी प्राप्त करना था कि आपको कभी समय किसी प्रकार की समस्या का सामना करना पड़ा मुख्य रूप से ऑप्शन ट्रेडिंग निम्नलिखित Strategies होती है।

  • Long call options trading strategy
  • Short call options trading strategy
  • Long put options trading strategy
  • Short put options trading strategy
  • Long straddle options trading strategy
  • Short call options trading strategy
  • Long put options trading strategy

यह सभी स्ट्रेटजी महत्वपूर्ण होती है और अपने आप में इस प्लेटफार्म के लिए कई प्रकार की बातें होती है। “Option Trading Kya Hai in Hindi (What is Option Trading) and Option Trading Kaise Karte Hain? Option Trading Strategies for Beginners Through Zerodha App”

इसे भी पढ़े ZestMoney Kya Hai in Hindi | ZestMoney से पर्सनल लोन कैसे ले?

Option Trading Zerodha for Beginners

आपने जीरोधा एप के बारे में तो सुना ही होगा। यह एक ट्रेडिंग और इन्वेस्टमेंट ऑनलाइन प्लेटफॉर्म है। जिसके माध्यम से आपत्ति दिन लाखों लोग ट्रेडिंग कर कर पैसा कमाते हैं। यह बहुत ही लोकप्रिय ट्रेडिंग एप है। जिसे बड़े स्तर पर ट्रेडिंग करने के लिए इस्तेमाल में लाया जाता है। जीरोधा अपने ग्राहकों को सभी प्रकार के ट्रेडिंग और इन्वेस्टमेंट के विकल्प प्रदान करती है।

जीरोधा एप्लीकेशन के माध्यम से जीरोधा के ग्राहक स्टॉप म्यूचल फंड आईपीओ तथा बीएसई एनएसई, एमसीएक्स जैसे डेरिवेटिव्स में भी ट्रेड कर सकते हैं।

जरोदा अपने ग्राहकों को ट्रेड करने के लिए buy ओर sell करने के लिए दो विकल्प प्रदान करता है।

Zerodha Kite
Sensibull

जीरोधा काईट एक ऐसी एप्लीकेशन है जिसे आप मोबाइल फोन या फिर वेबसाइट के माध्यम से भी चला सकते हैं। यह जीरोधा की प्रमुख ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म है। वहीं दूसरी ओर सेंसिबुल छोटा प्लेटफार्म है, जिस पर छोटे ट्रेडर्स काम करते हैं। “Option Trading Kya Hai in Hindi (What is Option Trading) and Option Trading Kaise Karte Hain? Option Trading Strategies for Beginners Through Zerodha App”

Zerodha Me Option Trading Kaise Karte Hain (जीरोधा में ट्रेडिंग कैसे करें)?

जीरोधा एप्लीकेशन में अकाउंट बनाते समय आपको एक लॉगइन आईडी और पासवर्ड दिया जाता है। इसी लॉगइन आईडी और पासवर्ड के माध्यम से आपको जीरोधा काईट में लॉगिन करना होता है।

Zerodha में ट्रेडिंग कैसे करें स्टेप बाई स्टेप:

  • जीरोधा काईट में अपने मोबाइल फोन एप या फिर वेबसाइट मैं लॉगिन करें।
  • अब आपको अपने जीरोधा अकाउंट में पैसे डिपाजिट करने होंगे।
  • अब आपको मार्केट की वॉच लिस्ट दिखाई जाएगी। जिस भी कंपनी में आप इन्वेस्ट करना चाहे उस कंपनी का चुनाव कर सकते हैं।
  • उसके बाद आपके सामने BUY का विकल्प दिखाई देगा अब यहां से आप BUY का आर्डर कर दें।
  • अब आपके सामने ऑप्शन कॉन्ट्रैक्ट के बारे में सभी जानकारी दी जाएंगी। इन सभी जानकारियों को ध्यानपूर्वक पढ़ें और इसे समझें।
  • अब आर्डर पूरा होने का इंतजार करें और ऑर्डर को वेरीफाई करें।

इस प्रकार से आप जीरोधा एप में भी ऑप्शन ट्रेडिंग कर सकते हैं। बहुत सारे लोग जीरोधा एप में ऑप्शन ट्रेडिंग कर कर पैसा कमाते हैं। यदि आप भी जीरोधा ऐप का इस्तेमाल करते हैं, तो आपको ऑप्शन ट्रेडिंग में हाथ आजमा कर जरूर देखना चाहिए। “Option Trading Kya Hai in Hindi (What is Option Trading) and Option Trading Kaise Karte Hain? Option Trading Strategies for Beginners Through Zerodha App”

इसे भी पढ़े 5paisa App Se Paise Kaise Kamaye | 5paisa app से पैसे कैसे कमाएं?

ऑप्शन ट्रेडिंग के लाभ

आइए दोस्तों जानते हैं ऑप्शन ट्रेडिंग के अंतर्गत मिलने वाले लाभों के बारे में।

  • ऑप्शन ट्रेडिंग में नुकसान होने की स्थिति कम होती है। इसमें वित्तीय जोखिम अन्य प्रकार की ट्रेडिंग से कम होता है।
  • आमतौर पर देखा जाता है की ऑप्शन ट्रेडिंग में अन्य ट्रेडिंग से ज्यादा लाभ पाने की संभावना होती है।
  • ऑप्शन ट्रेडिंग में आपको कई प्रकार के स्ट्रैटेजिक अल्टरनेटिव मिलते हैं।
  • यह आपको कॉस्ट एफिशिएंसी के साथ सुविधा प्रदान कराती है।
  • ऑप्शन आपको स्टॉक रखने की लागत को कम करने में मदद करते हैं।
  • ऑप्शन के बड़े फायदों में से एक यह है कि यह उस व्यक्ति से जोखिम के व्यवस्थित हस्तांतरण की अनुमति देता है।यह ऑप्शन ट्रेडिंग के सबसे बड़े लाभों में से एक है। क्योंकि यह जोखिम के लिए एक उचित द्वितीयक बाजार प्रदान करता है, जो कि विकल्प बाजार को अद्वितीय बनाता है।

Conclusion (Option Trading Kaise Karte Hain)

दोस्तों आज किस आर्टिकल में हमने एक बहुत ही महत्वपूर्ण विषय के बारे में चर्चा की। आशा है कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा। आज के इस आर्टिकल में हमने ऑप्शन ट्रेडिंग से संबंधित बहुत सारी जानकारियां प्राप्त की।

मुख्य रूप से हमने जाना कि “Option Trading Kya Hai in Hindi (What is Option Trading) and Option Trading Kaise Karte Hain? Option Trading Strategies for Beginners Through Zerodha App” इत्यादि के बारे में। ऑप्शन ट्रेडिंग ऑप्शन ट्रेडिंग एक बहुत बड़ा विषय है। जिसके बारे में सारी जानकारियां तो एक ही आर्टिकल में प्राप्त कर पाना लगभग मुश्किल होता है। मगर फिर भी हमने कोशिश की है कि इस आर्टिकल में आपको सभी महत्वपूर्ण जानकारियों से अवगत कराया जाए।

यदि आपको फिर भी कुछ ऑप्शन ट्रेडिंग के बारे में जानना है तो आप हमें कमेंट बॉक्स में बता सकते हैं। जल्दी इसका जवाब आपको दे दिया जाएगा। ऐसी ही अन्य ट्रेडिंग और शेयर मार्केट से संबंधित जानकारियों के लिए आप हमारे वेबसाइट के मुख्य पेज पर जा सकते हैं। जहां पर आपको ट्रेडिंग मार्केट शेयर मार्केट और क्रिप्टोकरंसी आधुनिक प्लेटफार्म के बारे में जानकारी दी गई हैं।

यदि आपका कोई दोस्त या रिश्तेदार ट्रेडिंग के बारे में जानना चाह रहा हो या फिर वह ट्रेडिंग करता हो तो आप उसे इस पोस्ट से जरूर रूबरू कराएं। ताकि उसको ऑप्शन ट्रेडिंग के बारे में सही नॉलेज मिल सके और वह भी ऑप्शन ट्रेडिंग कर कर अन्य लोगों की तरह अच्छा खासा पैसा कमा सकें।

इसे भी पढ़े Bajaj Finance Loan Details | Bajaj Finance Se Loan Kaise Le

FAQs For Option Trading Kaise Karte Hain

ऑप्शन ट्रेडिंग कैसे सीखे?

कई बार ऐसा होता है कि लोग दूसरों को देखा देखी ट्रेडिंग क्षेत्र में आ जाते हैं और अपना पैसा इन्वेस्ट कर देते हैं। ट्रेडिंग मार्केट के बारे में जानकारी नहीं होने के कारण यह लोग लाखों का नुकसान करा लेते हैं। मेरे जानने में एक दोस्त हैं जिन्होंने अपना ₹50000 क्रिप्टोकरंसी में दूसरों के कहने से लगा दिया और सारा पैसा डूब गया। यदि आप भी ट्रेडिंग के बारे में सोच रहे हैं तो आप कभी भी किसी के भरोसे ना रहें।

यदि आपको सच में ही ट्रेडिंग करना है और आप पैसा कमाना चाहते हैं तो आपको इस बिल के बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए। ऑप्शन ट्रेडिंग सीखने के लिए आपको यूट्यूब सबसे बेहतरीन प्लेटफार्म मिलता है। यहां पर आप फ्री में ही ऑप्शन ट्रेडिंग सीखकर एक्सपर्ट बन सकते हैं। इसके अलावा आप गूगल का भी सहारा ले सकते हैं। मेरे निजी विचार है कि आप यूट्यूब के माध्यम से आसानी से ट्रेडिंग सीख सकते हैं। क्योंकि यूट्यूब पर ट्रेनिंग के बारे में एक्सपर्ट लोग ही बताते हैं जिन्होंने खुद भी इस फील्ड में काम क्या होता है। ऐसे में आपको ट्रेडिंग मार्केट के बारे में सभी छोटी और बड़ी जानकारियों के बारे में विस्तार पूर्वक कंटेंट मिलता है।

एक लॉट में कितने शेयर होते हैं?

जब भी आप एक ट्रांजेक्शन में कुछ शेयर खरीदते हैं तो इनको लोट कहा जाता है। दरअसल लोट का साइज कंपनी दर कंपनी अलग हो सकता है। लोट एक व्युत्पन्न सुरक्षा में निहित अनुबंधों (कॉन्ट्रैक्ट) की संख्या को दरसाता करता है।

कॉल और पुट ऑप्शन क्या है?

कॉल किसी ग्राहक को शेयर खरीदने कम अधिकार प्रदान कराता है। यदि ग्राहक को अपने शेयर खरीदने हैं तो उसको कॉल के विकल्प पर चुनाव करना होता है। वहीं दूसरी ओर ग्राहक को शेयर को खत्म करने का विकल्प प्रदान करता है। कॉल पुट ऑप्शन ट्रेडिंग के सबसे महत्वपूर्ण अंग है। इन्हीं के आधार पर ऑप्शन ट्रेडिंग की जाती है।

ट्रेडिंग कितने प्रकार के होते हैं?

जब हम किसी चीज का आदान प्रदान करने के लिए पैसों का प्रयोग ना कर कर शेयर्स का प्रयोग करें तो इसी स्थिति को ट्रेडिंग कहा जाता है। ट्रेडिंग के कई प्रकार होते हैं: मुख्य रूप से इसके निम्नलिखित चार प्रकार हैं।

  • Scalping Trading
  • Swing Trading
  • Positional Trading
  • Intraday Trading

इन चार प्रकार के भी कई अन्य प्रकार होते हैं।


अपने दोस्तों के साथ शेयर करें

Check Also

OctaFX Se Paise Kaise Kamaye (OctaFX से पैसे कैसे कमाए)? Is OctaFX Legal in India? OctaFX क्या है and OctaFX Me Trading Kaise Kare?

OctaFX Se Paise Kaise Kamaye (OctaFX से पैसे कैसे कमाए)?

अपने दोस्तों के साथ शेयर करेंOctaFX Se Paise Kaise Kamaye (OctaFX से पैसे कैसे कमाए)? …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!