'; } else { echo "Sorry! You are Blocked from seeing the Ads"; } ?>

CIBIL Score How to Check | सिबिल स्कोर कैसे चेक करें?

अपने दोस्तों के साथ शेयर करें

How to Check CIBIL Score Free Online? CIBIL Score Kaise Check Karen: दोस्तों, हमें अपने जीवन के पड़ाव में कई बार आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ता है। आर्थिक तंगी से बचने के लिए हम बैंकों की तरफ रुख करते हैं।

हम अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए लोन लेते हैं। सबसे अच्छी बात यह है कि बैंकों के माध्यम से आपको जरूरत पड़ने पर कम ब्याज दरों पर लोन दी जाती है। जब भी कहीं लोन की चर्चा होती है तो सिबिल स्कोर उसमें से मुख्य रूप से चर्चा में होता है।

यदि आपका सिबिल स्कोर सही है, तो कोई भी बैंक आपको आसानी से लोन दे देगा। यदि आपका सिबिल स्कोर अच्छा नहीं है तो इस स्थिति में बैंक आपका लोन रिजेक्ट कर सकता है। सबसे अहम बात यह है कि आपको अपने सिबिल स्कोर को बनाए रखना बहुत जरूरी होता है। ताकि आपको किसी भी मुश्किल वक्त में लोन लेते वक्त किसी भी समस्या का सामना ना करना पड़े।

दोस्तों! क्या आप जानते हैं सिबिल स्कोर बारे में? यह शब्द सुनने में तो बहुत मिलता है, मगर सही अर्थों में इसका मतलब शायद ही किसी को पता हो। यदि आपको भी सिबिल स्कोर के बारे में जानना है, तो यह आर्टिकल आपको सिबिल स्कोर से संबंधित सभी प्रकार की जानकारियां प्रदान कराएगा। आइए जानते हैं, और क्या होता है और इसका महत्व क्या है। आज के इस आर्टिकल का केंद्रित विषय होगा कि सिबिल स्कोर चेक कैसे करें?

How to Check CIBIL Score Free Online? CIBIL Score Kaise Check Karen

सिबिल स्कोर क्या होता है?

सिबिल स्कोर एक इंग्लिश का शब्द है: जिसका पूरा नाम क्रेडिट इनफॉरमेशन ब्यूरो इंडिया लिमिटेड है। CIBIL: Credit Information Bureau (India) Ltd. सिबिल स्कोर एक व्यक्ति का फाइनेंसर डाटा होता है। जिसका इस्तेमाल लोन या क्रेडिट कार्ड देने के लिए किया जाता है।

क्रेडिट इनफॉरमेशन ब्यूरो इंडिया लिमिटेड आपकी बैंक में लेनदेन और पैन कार्ड से इंफॉर्मेशन जुटाकर यह डाटा तैयार करता है। जिसका इस्तेमाल बाद में लोन लेने के लिए किया जाता है। इसी डाटा को सिबिल क्रेडिट रिपोर्ट के रूप में पेश किया जाता है।

सिबिल स्कोर को क्रेडिट इनफॉरमेशन रिपोर्ट अथवा सीआईआर भी कहा जाता है। मुख्य रूप से मुख्य रूप से सिबिल स्कोर को घटाने और बढ़ाने में पेमेंट हिस्ट्री, क्रेडिट एक्स्पोज़र, लोन का प्रकार और लोन की समय अवधि मुख्य भूमिका निभाती हैं।

इसे भी पढ़े Paisa Kamane Wala Game 2022 (पैसा कमाने वाला गेम)

सिबिल स्कोर अधिकतम कितना हो सकता है? (CIBIL Score How to Check)

दोस्तों सिबिल स्कोर की रेंज 300 से लेकर 900 तक की होती है 300 इसका न्यूनतम स्तर होता है। वहीं दूसरी ओर 920 का अधिकतम स्तर होता है। 750 तक के सिबिल स्कोर वाले व्यक्ति को एक जिम्मेदार उधारकर्ता माना जाता है। सिबिल स्कोर मुख्य रूप से पांच प्रकार का हो सकता है।

NA/NH सिबिल स्कोर।

NA/NH: यदि आप जिंदगी में पहली बार लोन ले रहे हैं तो इसी स्थिति में आपका सिबिल स्कोर NA/NH के रूप में दिखाया जाएगा।NA (एन ए) का मतलब होता है: नॉट अवेलेबल और एनएच का मतलब होता है: नो हिस्ट्री।

यदि आपने जिंदगी में पहले कभी क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल किया ही नहीं है या फिर कोई लोन नहीं ली, तो इस स्थिति में आपका कोई भी सिबिल स्कोर जनरेट नहीं होगा।

यदि आप अपना सिबिल स्कोर क्रिएट करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको चाहिए कि आप अपना क्रेडिट कार्ड बनवाएं। जिससे आपका सिबिल स्कोर बढ़ सके। “How to Check CIBIL Score Free Online? CIBIL Score Kaise Check Karen”

350 से लेकर 549 तक का सिबिल स्कोर:

यदि आपका सिबिल स्कोर 350 से लेकर 549 तक की रेंज में आता है, तो इसका मतलब है कि आपका सिबिल स्कोर और बहुत ही गंदा है। आप अपने क्रेडिट कार्ड की पेमेंट को समय पर नहीं भरते हैं या फिर आपने कोई लोन लिया है। जिसको आपने पूरी तरह से चुकाया नहीं है।

या फिर लोन की किस्त समय पर नहीं भरते हैं। यदि आपका सिबिल स्कोर इस रेंज में है तो आपको कोई नई लोन मिल पाना बहुत ही मुश्किल होता है। इस रेंज के व्यक्तियों को बैंक डिफॉल्टर के रूप में पंजीकृत कर देते हैं, जो भविष्य में आपको लोन लेने से वंचित कर सकता है।

550 से लेकर 649 तक का सिबिल स्कोर।

यदि आपका सिबिल स्कोर 550 से लेकर 649 तक के बीच में आता है, तो इसको एक अच्छी कैटेगरी में माना जाता है। मगर इस कैटेगरी में भी आपको लोन मिलने में काफी दिक्कत है आ सकती है इस रेंज के व्यक्ति अपनी किस्तों का भुगतान तो करते हैं मगर उन्हें किस्त भुगतान करने में दिक्कत है आती है इसलिए ही वह समय पर अपनी किस्तों का भुगतान नहीं कर पाते।

इस रेंज के ग्राहकों को कुछ ही बैंक क्रेडिट कार्ड या फिर लोन देते हैं। यदि आप आसानी से लोन लेना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको अपने सिबिल स्कोर को सुधारना होगा।

650 से लेकर 749 तक का सिबिल स्कोर

यदि आपका सिबिल स्कोर 650 से लेकर 749 तक की रेंज में है तो, इसका मतलब आप एक जिम्मेदार व्यक्ति हैं। और आपका सिबिल स्कोर सही है। इस स्थिति में कोई भी बैंक आपको लोन दे देता है। हालांकि आपको अभी भी अपने सिबिल स्कोर को अच्छा करने की जरूरत है। यदि आप निरंतर समय पर क्रेडिट कार्ड का भुगतान करते रहेंगे या फिर लोन की किस्तों को देते रहेंगे तो धीरे-धीरे और भी अच्छा हो जाएगा।

750 से लेकर 900

यदि आपका सिबिल स्कोर 750 से अधिक है तो आप बहुत ही अच्छे ग्राहक है। कोई भी बैंक आप को लोन देने से मना नहीं करेगा और सबसे अच्छी बात यह है कि इतने सिबिल स्कोर पर आपको कम ब्याज दरों पर लोन मिल जाएगा।

जिन लोगों को 750 से अधिक होता है, वह वह अपनी क्रेडिट कार्ड हिस्ट्री को अप टू डेट रखते हैं। साथ ही साथ पहले ली गई लोन का भुगतान भी समय पर किया होगा। आमतौर पर देखा जाता है, ऑनलाइन लोन देने वाले प्लेटफार्म भी आप से 750 का ही सिबिल स्कोर मांगते हैं।

इसे भी पढ़े Expert Option Se Paise Kaise Kamaye? Expert Option App क्या है?

सिबिल स्कोर को प्रभावित करने वाले कारक।

दोस्तों, अब हम बात करेंगे सिबिल स्कोर को प्रभावित करने वाले कारकों के बारे में। दरअसल कई बार हमसे जाने अनजाने में छोटी-छोटी गलतियां हो जाती है। जिनका हमारा सिबिल स्कोर पर बहुत गहरा प्रभाव पड़ता है।

सिबिल स्कोर को अच्छा बनाए रखने के लिए आपको उन कारकों के बारे में जानना जरूरी है। जिन कारकों के आधार पर सिबिल स्कोर को निर्धारित किया जाता है। “How to Check CIBIL Score Free Online? CIBIL Score Kaise Check Karen”

पेमैंट इतिहास (Payment History):

हमने पहले भी बताया सिबिल स्कोर को आपके क्रेडिट कार्ड के रिकॉर्ड और यदि आपने पहले लोन ली है. तो इस लोन के आधार पर तय किया जाता है। यदि आप अपने क्रेडिट कार्ड की किस्तों को समय पर भरते हैं, और लोन की एमआईबी प्रति महीने समय पर भरते हैं, तो इस स्थिति में आपका सिबिल स्कोर बढ़ने लगता है।

यदि आप समय पर किस्तों का भुगतान नहीं करते तो, इस स्थिति में आपका सिबिल स्कोर खराब होने लगता है। यदि आप 30 दिनों तक किसी किस्त का भुगतान नहीं करते हैं. तो इस स्थिति में आपका सिबिल स्कोर 100 अंकों तक नीचे गिर सकता है।

Credit Utilisation Ratio:

वैसे तो आप एक से अधिक लोन और एक से अधिक क्रेडिट कार्ड रख सकते हैं। मगर ध्यान रहे आपको अधिक रुपए का इस्तेमाल नहीं करना है। यदि आप एक से अधिक क्रेडिट कार्ड या फिर लोन ले रहे हैं तो आप ज्यादा राशि ना लें।

क्योंकि ज्यादा राशि का कर्जा होना आपके सिबिल स्कोर पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकता है। यदि आप कई जगह से लोन ले लेते हो तो, इसको भरने के लिए आपके पास पैसा भी ज्यादा ही होना चाहिए। और आप लोन ले रहे हो तो जाहिर सी बात है कि आप आर्थिक तंगी से गुजर रहे हो।

इस स्थिति में बैंक सोचने लगता है कि आप जल्दी ही बैंक का पैसा लेकर भागने वाले हो। तो इस स्थिति में आपका सिबिल स्कोर गिरने लगता है । क्रेडिट स्कोर को मेंटेन रखने के लिए आपको क्रेडिट कार्ड की लिमिट 30% तक ही प्रयोग में लेनी चाहिए।

लोन/क्रेडिट का प्रकार और समय अवधि:

दोस्तों सिबिल स्कोर कॉल मेंटेन रखने के लिए आपकी क्रेडिट हिस्ट्री भी चेक की जाती है। इसमें यह भी देखा जाता है कि आप पिछले कितने वर्षों से क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करते हैं, या फिर कितने वर्षों से आपने कोई लोन ले रखी है। यदि आप कई वर्षों से इस तरह का लेनदेन करते आए हैं, तो जाहिर सी बात है आपको पैसा देने में कंपनी संकोच नहीं करेगी। इसलिए लोन की समय अवधि सिबिल स्कोर को बढ़ाने में मददगार साबित होती।

इसके अलावा यह भी चेक किया जाता है कि आप कितने समय में कितनी लोन के लिए अप्लाई कर चुके हैं। यदि आपने कम ही समय में बहुत ज्यादा लोन के लिए अप्लाई किया है, तो इस स्थिति में आपके सिबिल स्कोर पर भी नेगेटिव इफेक्ट पड़ता है। “How to Check CIBIL Score Free Online? CIBIL Score Kaise Check Karen”

इसे भी पढ़े Pan Card Se Loan Kaise Le | पैन कार्ड से लोन कैसे लेते हैं?

सिबिल स्कोर को केसे बढ़ा सकते हैं?

दोस्तों सिबिल स्कोर की महत्वता तो आप जानते ही होंगे। किसी भी मुश्किल वक्त में आप लोन लेने के बारे में विचार करते हैं, तो इसमें सिबिल स्कोर एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। क्योंकि सिबिल स्कोर के आधार पर ही तय होता है कि किस ग्राहक को लोन देनी है और किसको नहीं।

जिन ग्राहकों का शिविर स्कोर अच्छा होता है, उनकी लोन एप्लीकेशन स्वीकार कर ली जाती है। वहीं दूसरी ओर ग्राहकों का सिबिल स्कोर खराब होता है। उनकी लोन एप्लीकेशन रिजेक्ट हो जाती है। इसलिए आपको सिबिल स्कोर का ध्यान रखना चाहिए।

कुछ ग्राहकों का सिबिल स्कोर खराब हो जाता है तो आप चिंता करने की जरूरत नहीं है। अब हम जानेंगे कि इसे कैसे बढ़ा सकते हैं। एक बार यदि आपका सिबिल स्कोर बढ़ गया तो फिर कोई भी बैंक आपको आसानी से लोन दे देगा।

  • अपनी महीने की किस्तों को समय पर भरे।
  • क्रेडिट कार्ड का बिल ड्यू डेट से पहले ही भरे।
  • सभी किस्तों की पूरी राशि प्रतिकृति भरे। बाद के लिए किसी भी किश्त को पीछे मत डालें। इससे आपके सिबिल स्कोर और पर नेगेटिव इंपैक्ट हो सकता है।
  • क्रेडिट कार्ड का सिर्फ 30% तक ही इस्तेमाल करें।
  • समय समय पर अपना क्रेडिट स्कोर चेक करते रहे। यदि उसमें कोई गलती है तो उसे सुधारें।

अच्छा सिबिल स्कोर होने के फ़ायदे।

दोस्तों अब हम बात करेंगे अच्छा सिबिल स्कोर होने पर आपको क्या-क्या फायदे मिलते हैं।

कम ब्याज दरें: अच्छा सिबिल स्कोर होने का यही होता है कि बैंक आपको अन्य ग्राहकों के मुकाबले में कम ब्याज दरों पर लोन देने को राजी हो जाता है। क्योंकि बैंक को यकीन होता है कि आप उसका पैसा वापस कर दोगे। इसलिए बैंक के एक विश्वसनीय ग्राहक होने के कारण आपको कम ब्याज दरों पर ही लोन दे दी जाती है।

लोन मिलने में आसानी: अक्सर देखा जाता है कुछ लोन बैंक से लोन तो ले लेते हैं. मगर उसका भुगतान नहीं करते। ऐसे में बैंकों का बहुत सारा पैसा व्यर्थ हो जाता है। इन्हीं कुछ कारणों की वजह से आप बैंक बहुत सोच समझकर लोन देते हैं।

यदि आपका सिबिल स्कोर अच्छा है तो आपको अन्य ग्राहकों के मुकाबले में आसानी से लोन दे दी जाएगी। कम सिबिल स्कोर वाले लोगों को लोन लेने में कठिनाइयां उठानी पड़ती है। कई बार तो ऐसा होता है, उनकी लोन एप्लीकेशन को ही रिजेक्ट कर दिया जाता है। यदि आपका अच्छा है, तो आपको कोई भी बैंक आसानी से लोन देगा।

उच्च ऋण सीमा और उच्च क्रेडिट सीमा: जिन ग्राहकों का सिबिल स्कोर अच्छा होता है, उनको अन्य ग्राहकों के मुकाबले में ज्यादा क्रेडिट सीमा दी जाती है। साथ ही साथ यदि वह लोन लेते हैं तो इनको अन्य ग्राहकों के मुकाबले में ऋण सीमा दी जाती है।

ग्राहकों का पूरा विश्वास होता है कि वह लोन राशि को वापस कर देंगे। इसलिए ही बैंक इन को लोन राशि देते समय हिचकीचाते नहीं है। “How to Check CIBIL Score Free Online? CIBIL Score Kaise Check Karen”

इसे भी पढ़े Best Credit Cards for Students With No Credit

How to Check Your CIBIL Score Online (सिबिल स्कोर को ऑनलाइन चेक कैसे करें)?

दोस्तों अब हमने सिबिल स्कोर के बारे में जानकारी तो प्राप्त कर ली है। अब हम जानेंगे कि यदि आपको अपना सिबिल स्कोर जानना हो तो इसे आप कैसे चेक कर सकते हैं। सिबिल स्कोर चेक करने के लिए आपको किसी बैंक या बैंक शाखा में जाने की जरूरत नहीं है। आप आसानी से अपने फोन के माध्यम से ही इसे चेक कर सकते हैं।

How to Check CIBIL Score Free Online- Step By Step Process:

Step-1: सबसे पहले तो आपको सिबिल सिक्योरिटी ऑफिशल वेबसाइट पर जाना होगा। सिबिल स्कोर की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाते ही आपको gate your civil score Now का विकल्प दिखेगा।
ऑफिशियल सिबिल स्कोर वेबसाइट लिंक: www.cibil.com

Step-2: आपको इसमें लॉगइन करना है। यदि आपका सिबिल स्कोर ऑफिशल वेबसाइट पर अकाउंट नहीं है, तो आप यहीं से “गेट योर सिबिल स्कोर नाउ” पर क्लिक कर कर अकाउंट भी क्रिएट कर सकते हैं।

Step-3: इस लिंक पर क्लिक करने के पश्चात आपको एक नए फॉर्म पर ले जाया जाएगा। जहां पर आप से आपकी आवश्यक जानकारी मांगी जाएंगी। जैसे कि आपका नाम, जन्म तिथि, निवास स्थान का पता, भारत सरकार द्वारा जारी किया गया कोई आईडी प्रूफ और पिछली लोन हिस्ट्री के बारे में आपसे कुछ जानकारी मांगी जाएंगी। यह सब जानकारी आपको इस में दर्ज कर देनी है।

Step-4: यह सब जानकारी देने के पश्चात आपको पेमेंट वाले पेज पर ले जाया जाएगा। सिबिल स्कोर जानने के लिए आपको ₹470 की पेमेंट करनी होती है। इसके लिए आप अपने क्रेडिट कार्ड डेबिट कार्ड या फिर यूपीआई आईडी की भी मदद ले सकते हैं।

Step-5: पेमेंट कर देने के पश्चात आपको ऑथेंटिकेशन पेज पर ले जाया जाता है। जहां पर आप से आपकी क्रेडिट हिस्ट्री के बारे में 5 सवाल पूछे जाते हैं। यदि आप 5 में से 3 सवालों के जवाब नहीं देते हैं, तो आपकी ऑथेंटिकेशन स्वीकार कर ली जाती है। इसके बाद आपकी सिबिल स्कोर रिपोर्ट 24 घंटे के अंदर आपको मेल कर दी जाती है।

यदि किसी कारणवश आप ऑथेंटिकेशन में पास नहीं हो पाते तो आपको निराश होने की जरूरत नहीं है। आप इस स्थिति में एप्लीकेशन की हार्ड कॉपी सिबिल ऑफिशल वेबसाइट को ईमेल के माध्यम से भेज सकते हैं।

क्या हम सिबिल स्कोर को फ्री चेक कर सकते हैं?

दोस्तों ऑफिशियल सिबिल स्कोर चेक करने के लिए आपको एक सब्सक्रिप्शन प्लान लेना ही पड़ता है। सब्सक्रिप्शन प्लान के अंतर्गत कि आप अपना सिबिल स्कोर चेक कर सकते हैं। अन्यथा आप अपना सिबिल स्कोर किसी दूसरी तरीके से नहीं चेक कर सकते हैं।

एक स्थिति यह भी हो सकती है कि आप अपने बैंक में जाकर अपना सिबिल स्कोर चेक करा सकते हैं। हो सकता है कि बैंक आपको आपका सिबिल स्कोर बता दे। यदि ऑनलाइन प्लेटफॉर्म गूगल जैसे प्लेटफार्म पर कोई फ्री में सिबिल स्कोर चेक करने का दावा करता है, तो वह पूरी तरह से विश्वसनीय नहीं हो सकता हो सकता है।

हो सकता है कि आपका बैंक भी इस डाटा को मानने से इनकार करते इसलिए आपको ऑफिशल वेबसाइट से ही सिबिल स्कोर चेक करना चाहिए।

इसे भी पढ़े Aadhar Card Se Paise Kaise Nikale | आधार कार्ड से पैसे कैसे निकाले?

Conclusion (CIBIL Score How to Check)

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हमने जाना कि किस प्रकार से सिबिल स्कोर ऑनलाइन ही चेक किया जा सकता है। साथ ही साथ हमने सिबिल स्कोर के बारे में महत्वपूर्ण जानकारियों “How to Check CIBIL Score Free Online? CIBIL Score Kaise Check Karen” के बारे में भी विस्तारपूर्वक चर्चा की।

आशा है कि आपको सिबिल स्कोर से संबंधित सभी प्रकार की जानकारियां इस आर्टिकल में मिल गई होंगी। यदि आपको सिबिल स्कोर से संबंधित कोई अन्य समस्या है तो आप उसे कमेंट सेक्शन में बता सकते हैं। जल्दी आपका जल्द जवाब दिया जाएगा।

ऐसी ही लोन संबंधित जानकारियों के लिए आप हमारी वेबसाइट के होम पेज पर जा सकते हैं। जहां पर आप को इस प्रकार की बहुत सी जानकारियां मिल जाएंगी। यह आर्टिकल अपने दोस्तों तक जरूर भेजें। ताकि किसी भी मुश्किल वक्त में उनकी मदद हो सके।


अपने दोस्तों के साथ शेयर करें

Check Also

PF Kaise Nikale Mobile Se (ऑनलाइन पीएफ कैसे निकाले), How to Withdraw PF Online With UAN (मोबाइल से ऑनलाइन पीएफ कैसे निकाले)

PF Kaise Nikale Mobile Se | मोबाइल से ऑनलाइन पीएफ कैसे निकाले

अपने दोस्तों के साथ शेयर करेंPF Kaise Nikale Mobile Se (ऑनलाइन पीएफ कैसे निकाले), How …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!