'; } else { echo "Sorry! You are Blocked from seeing the Ads"; } ?>

Cryptocurrency Kya Hai (क्रिप्टोकरेंसी क्या है)? Invest कैसे करें?

अपने दोस्तों के साथ शेयर करें

Cryptocurrency Kya Hoti (Hota) Hai in Hindi? Cryptocurrency Me Invest Kaise Kare (Kaise Kharide/ Trading Kaise Kare) and Cryptocurrency Se Paise Kaise Kamaye?: आप क्रिप्टो करेंसी के बारे में न्यूज़ में सुनते होंगे क्रिप्टोकरंसी ने हाल ही के कुछ दिनों में दुनिया में तहलका मचा दिया है। जिस प्रकार से लोगों ने क्रिप्टोकरंसी को अपनाया है। वह देखने से ही बनता है।

क्रिप्टो करेंसी ने फाइनेंसियल मार्केट में एक अच्छी खासी इज्जत कमाली है। क्रिप्टो करेंसी वर्तमान में अपने खास ऊंचाइयों की सीढ़ियां चढ रहा है। क्रिप्टोकरंसी वास्तव में एक भौतिक करेंसी नहीं है, मगर फिर भी इसमें दुनिया को अपनी ओर आकर्षित किया है।

यदि हम यह बात आज से 20 साल पहले किसी को बताते की राशि के भौतिक रूप से उपलब्ध ना होते हुए भी हम किसी भी चीज को खरीद सकते हैं। तो शायद ही कोई यकीन करता। मगर क्रिप्टोकरंसी ने आज दुनिया के सामने एक नई मिसाल पेश की है। जिसके चलते बिटकॉइन डॉगी कोइन शिबू जैसे कोइंस अस्तित्व में आए हैं।

क्रिप्टोकरंसी में लाखों लोग अपना पैसा लगा रहे हैं। जिसके चलते उन्हें बहुत सा पैसा कमाने को भी मिला है। मेरे जानने वालों में से ही बहुत सारे लोग क्रिप्टो करेंसी में पैसा लगाकर अच्छी खासी रकम प्रति महीने कमाते हैं।

क्रिप्टो करेंसी के बारे में सही जानकारी होना बहुत जरूरी है, यदि क्रिप्टो के बारे में आपको पूर्ण रूप से जानकारी प्राप्त नहीं है, तो यह आपके पैसे को डूबा भी सकता है। इसलिए क्रिप्टो मार्केट में जाने से पहले आपको क्रिप्टो करेंसी के बारे में जान लेना बहुत जरूरी है।

आइए इस आर्टिकल में जानते हैं, क्रिप्टोकरेंसी क्या है (Cryptocurrency Kya Hai)? आप इस आर्टिकल को पूरा पढ़ेंगे तो क्रिप्टोकरेंसी के बारे में सब कुछ जान जाओगे।

Cryptocurrency Kya Hoti (Hota) Hai in Hindi? Cryptocurrency Me Invest Kaise Kare (Kaise Kharide/ Trading Kaise Kare) and Cryptocurrency Se Paise Kaise Kamaye?

Cryptocurrency Kya Hai (क्रिप्टोकरेंसी क्या है)?

क्रिप्टोकरंसी इन सी करेंसी है जो भौतिक रूप से मौजूद नहीं होती। मगर उसका अस्तित्व जरूर है। यह एक फिजिकल करेंसी नहीं है। मगर फिर भी इसका इस्तेमाल आप किसी भी चीज को खरीदने के लिए कर सकते हैं।

क्रिप्टो करेंसी सरकार की रेगुलेशन नीतियों के दायरे से भी बाहर होती हैं। इसे रेगुलेट कर पाना मुश्किल है। सरकार की ओर से क्रिप्टो करेंसी के बारे में अभी कोई साफ स्टैंड नहीं है। क्योंकि सरकार इसे रेगुलेट नहीं कर सकती। इसलिए उस पर गलत होने का अंदेशा भी ज्यादा ही होता है।

जिस प्रकार भारतीय मुद्रा में रुपए का स्थान होता है। उसी प्रकार क्रिप्टोकरंसी में बिटकॉइन का स्थान है। बिटकॉइन को क्रिप्टोकरंसी में सबसे पहले लाया गया था। बहुत सारी कॉन्ट्रोवर्सी बिटकॉइन से संबंधित हुई है।

मगर फिर भी बिटकॉइन समस्त विश्व में सबसे ज्यादा लोकप्रिय और क्रिप्टो करेंसी मार्केट में सबसे ज्यादा महत्व रखता है। वर्तमान में क्रिप्टो करेंसी के ऐसे 100 से भी अधिक सिक्के आ चुके हैं। वर्तमान समय में क्रिप्टोकरंसी के विभिन्न प्रकार की कोई उपलब्ध है। जिनके जरिए समस्त वश में सीधे बैंक से बैंक ट्रांसफर किया जा रहा है।

क्रिप्टोकरंसी एक प्रकार से वर्चुअल करेंसी होती है। इस करेंसी का इस्तेमाल विश्व भर में कंप्यूटर के माध्यम से ही किया जाता है।

बिटकॉइन को क्रिप्टोकरंसी के साथ सन 2008 में लॉन्च किया गया था। महज चंद सालों में ही क्रिप्टोकरंसी ने को अपनी ओर आकर्षित कर लिया। “Cryptocurrency Kya Hoti (Hota) Hai in Hindi? Cryptocurrency Me Invest Kaise Kare (Kaise Kharide/ Trading Kaise Kare) and Cryptocurrency Se Paise Kaise Kamaye?”

इसे भी पढ़े Aadhar Card Se Paise Kaise Nikale | आधार कार्ड से पैसे कैसे निकाले?

Cryptocurrency Kya Hai Meaning in Hindi

Cryptocurrency को हिंदी में क्रिप्टो मुद्रा कहा जाता है। क्रिप्टोकरंसी एक पेपर मनी ना होकर वर्चुअल मनी है। इसे हम डाटा के रूप में ही इमेजिन कर सकते हैं। इस करंसी का इस्तेमाल ट्रेडिंग के लिए किया जाता है क्रिप्टोकरंसी को क्रिप्टोग्राफ के माध्यम से नियंत्रण किया जाता है।

इस करेंसी पर केंद्र सरकार का कोई नियम लागू नहीं होता। इसको रेगुलेट कर पाना भी बहुत मुश्किल होता है। इस करेंसी के माध्यम से आप ऑनलाइन भुगतान ही कर सकते हैं। इसको आम जिंदगी में इस्तेमाल करना अभी संभव नहीं हो पाया है।

हालांकि भविष्य में क्रिप्टोकरंसी का इस्तेमाल दैनिक जीवन की चीजें खरीदने के लिए क्या जा सकता है। मगर अभी क्रिप्टोकरंसी का इस्तेमाल लिमिटेड है।

वर्तमान भारतीय सरकार क्रिप्टोकरंसी को लेकर एक पॉजिटिव सोच नहीं रखती है। कई बार सरकार ने क्रिप्टोकरंसी पर बैन लगाने का भी सोचा है। हाल ही में जारी के गए एक बयान से पता चला है कि भारतीय सरकार क्रिप्टोकरंसी पर 30 पर्सेंट टैक्स लगाएगी।

क्रिप्टोकरंसी पर पूरी तरह से नियंत्रण केंद्र सरकार का नहीं होता है। तो इस स्थिति में करेंसी के लेन-देन में अनहोनी होने के भी ज्यादा चांसेज होते हैं। “Cryptocurrency Kya Hoti (Hota) Hai in Hindi? Cryptocurrency Me Invest Kaise Kare (Kaise Kharide/ Trading Kaise Kare) and Cryptocurrency Se Paise Kaise Kamaye?”

Cryptocurrencies में invest कैसे करें? (Cryptocurrency How to Invest)

क्रिप्टोकरंसी लोगों के लिए एक वरदान बनकर साबित हुआ है। बहुत सारे लोगों ने क्रिप्टोकरंसी के माध्यम से अपनी सफलता की कहानी घड़ी हैं। क्रिप्टोकरंसी में बहुत सारे लोग पैसा कमाता कर अपनी रोजी-रोटी चलाते हैं।

क्योंकि क्रिप्टोकरंसी में आप कम समय में अच्छे खासे पैसे कमा सकते हैं। तो इसलिए लोग इसकी तरफ तेजी से आकर्षित हो रहे हैं। अब हर तीसरा बंदा क्रिप्टो करेंसी में निवेश करने के बारे में सोचता है।

आइए जानते हैं, क्रिप्टो करेंसी में इन्वेस्ट कैसे किया जा सकता है. और आपको क्रिप्टो करेंसी में निवेश करते समय किन किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

क्रिप्टोकरंसी में इन्वेस्ट करने से पहले तो आपको क्रिप्टो करेंसी के बारे में सभी जानकारियां ले लेनी चाहिए। बेहतर होता है कि आप अपने किसी ऐसे दोस्त से बात करें, जो पहले से ही क्रिप्टोकरंसी मार्केट में एक्टिव है।

क्रिप्टोकरंसी मार्केट के बारे में आपको पता होना चाहिए, कि किन किन प्लेटफार्म के माध्यम से आप इसमें निवेश कर सकते हैं। निवेश करने के लिए आपको एक बेहतर प्लेटफार्म चुनना चाहिए, जिसमें आप निवेश करते समय अधिक घाटा न खाएं।

अधिकतर भारतीय लोग वजीरएक्स (Wazirx) जैसे एप्स के माध्यम से क्रिप्टोकरंसी में इन्वेस्ट करते हैं, क्योंकि इसमें ट्रेडिंग करना बहुत ही आसान है। और इसके फाउंडर भी एक भारतीय मूल के ही हैं। Wazirx जैसे प्लेटफार्म पर ट्रेडिंग करना बहुत ही आसान है।

आपको वजीरएक्स की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर अपना अकाउंट बनाना होगा। इसके बाद आपको अपनी केवाईसी डीटेल्स बनी होंगी, और आप प्राइवेसी और सुरक्षा को चुनने के पश्चात ट्रेडिंग कर सकते हैं।

इसे भी पढ़े SBI Yono App Se Personal Loan Kaise Le?

Cryptocurrencies के प्रकार (Cryptocurrency List/ Cryptocurrency Types)

यदि हम बात करें क्रिप्टोकरंसी के प्रकारों की तो वर्तमान समय में 1583 से भी अधिक प्रकार के क्रिप्टोकरंसी मार्केट में उपलब्ध है। मगर सभी क्रिप्टोकरंसी विश्व भर में फेमस नहीं है और इतना ज्यादा लाभ भी नहीं कमा रही हैं। तो हम मुख्य रूप से काम आने वाली क्रिप्टो करेंसी के बारे में जानेंगे। “Cryptocurrency Kya Hoti (Hota) Hai in Hindi? Cryptocurrency Me Invest Kaise Kare (Kaise Kharide/ Trading Kaise Kare) and Cryptocurrency Se Paise Kaise Kamaye?”

बिटकॉइन (Bitcoin – BTC):

बिटकॉइन के बिना क्रिप्टोकरंसी को इमेजिन कर पाना भी मुश्किल है। क्योंकि बिटकॉइन हीं क्रिप्टो करेंसी में आने वाला सबसे पहला कोइन और क्रिप्टोकरंसी था। बिटकॉइन की शुरुआत 2009 में क्रिप्टोकरंसी के साथ-साथ हुई। बिटकॉइन की शुरुआत का श्रेय Satoshi Nakamoto को दिया जाता है।

1 बिटकॉइन की कीमत लगभग 1300000 के आसपास होती है। वैसे तो यह कीमत घटती और बढ़ती रहती है। मगर आप क्रिप्टोकरंसी में बिटकॉइन का महत्व इसी राशि से लगा सकते हैं। क्रिप्टो करेंसी के अंतर्गत बिटकॉइन एक डिसेंट्रलाइज्ड करेंसी है।

जिस पर कोई भी सरकार अपनी तरफ से नियम और शर्तें लागू नहीं कर सकती। क्रिप्टोकरंसी के अंतर्गत बिटकॉइन सबसे महंगा खरीदे जाने वाला कोईन है। बिटकॉइन एक वर्चुअल या डिजिटल करेंसी है। जिसका इस्तेमाल हम किसी भी चीज को खरीदने के लिए कर सकते हैं। इस करेंसी को आपस में खरीदा और बेचा भी जा सकता है। “cryptocurrency kaise kharide”

एथेरम (Ethereum – ETH):

एथेरियम भी बिटकॉइन की तरह ही एक क्रिप्टोकरंसी है। जिसको गुड्स और सर्विस के भुगतान के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। इसकी कीमत क्रिप्टो करेंसी में बहुत ज्यादा है। इसकी स्थापना Vitalik Buterin के द्वारा किया गया।

एथेरम को हाल ही में दो हिस्सों में बांटा गया है। बिटकॉइन के बाद सबसे ज्यादा पसंद किया जाने वाला कोईन एथेरम ही है। एक एथेरम कॉइन की कीमत भारतीय बाजारों में दो लाख 27 हजार के आसपास है।

एथेरम (Ethereum) एक डिसेंट्रलाइज्ड क्रिप्टो करेंसी है। इस करेंसी को 2015 में क्रिप्टो मार्केट में लाया गया था। चंद ही महीनों में इस करेंसी ने क्रिप्टो करेंसी मार्केट में अपनी पकड़ बना ली। बिटकॉइन के बाद सबसे अधिक पसंद की जाने वाली करेंसी के रूप में बिटकॉइन में स्थान प्राप्त किया।

यदि आपके पास एक एथेरम कोइन हो जाता है, तो आप सोचो कि एक ही कोई आपको लखपति बना सकता है। “Cryptocurrency Kya Hoti (Hota) Hai in Hindi? Cryptocurrency Me Invest Kaise Kare (Kaise Kharide/ Trading Kaise Kare) and Cryptocurrency Se Paise Kaise Kamaye?”

इसे भी पढ़े Mahila Loan 30000 Scheme 2021 | Mahila Samridhi Yojana

लाइटकॉइन (Litecoin – LTC):

लाइट कॉइन भी एक प्रकार की क्रिप्टोकरंसी है। जैसे बिटकॉइन इथेरम ओपन सोर्स क्रिप्टो करेंसी हैं। उसी प्रकार लाइट को इन भी क्रिप्टोकरंसी का एक प्रकार है। इस करेंसी को Charles Lee के द्वारा निर्मित किया गया। इसकी माइनिंग करने के लिए सिक्रिप्ट एल्गोरिथम का प्रयोग किया जाता है।

लाइट को इनके बहुत सारे फीचर्स बिटकॉइन से मिलते हैं। लाइट कॉइन की ब्लॉक जनरेशन बिटकॉइन के मुकाबले में लगभग 4 गुना कम है। यही वजह है कि लाइट को इन के माध्यम से ट्रांजेक्शन जल्दी हो जाते हैं। “cryptocurrency kaise kharide”

डोगेकोइन (Dogecoin – Doge):

आप लोगों ने बहुत सारे मेन पेज पर कुत्ते पर मीम तो देखे ही होंगे। दरअसल कुछ लोगों ने बिटकॉइन की तुलना एक कुत्ते से की थी। आगे चलकर इस कुत्ते की तुलना ने हीं डोगेकोइन को जन्म दिया। डोगेकॉइन की स्थापना Billy Markus द्वारा की गई। इस कॉइन की माइनिंग के लिए scrypt algorithm का प्रयोग होता है।

मीम कॉइंस के अंतर्गत डॉगी कोइन की सबसे अधिक लोकप्रियता है। शिबू, इनू जैसे अन्य कोई भी मेम कोइन के अंतर्गत आते हैं। मगर डोगे कोइन की वैल्यू 197 मिलियन है।

टेथर (Tether – USDT):

टेथर भी बिटकॉइन की तरह ही क्रिप्टोकरंसी होती हैं। इसमें बिटकॉइन की ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया जाता है। जिसके कारण इसमें अस्थिरता कम हो जाती है। क्रिप्टो मार्केट में ग्राहकों को यह करेंसी प्रमुख रूप से आकर्षित करती है।

बहुत सारे लोग यूएसडीटी को क्रिप्टोकरंसी के रूप में अपना चुके हैं। सबसे अच्छी बात यह होती है, की यह क्रिप्टो मुद्रा स्थिर होती है। इसका का कोड यूएसडीटी है। इस कोइन को हॉन्ग कोंग की एक कंपनी निकालती हैं। “Cryptocurrency Kya Hoti (Hota) Hai in Hindi? Cryptocurrency Me Invest Kaise Kare (Kaise Kharide/ Trading Kaise Kare) and Cryptocurrency Se Paise Kaise Kamaye?”

बायनेंस कॉइन – Binance Coin (BNB):

अन्य क्रिप्टोकरंसीयो की तरह ही बाइनेंस कोइन भी एक प्रकार की क्रिप्टोकरंसी होती हैं। बीएनबी क्रिप्टो करेंसी का इस्तेमाल ट्रेडिंग में किया जाता है। ट्रेडिंग में एक्सचेंज के रूप में आदान प्रदान की जाने वाली बीएनबी कॉइन दुनिया की सबसे बड़ी क्रिप्टो करेंसी है।

बाइनेंस को इनको सन 2017 में लांच किया गया था जिस समय इसको इनको क्रिप्टो मार्केट में लाया गया था उस समय इसकी वैल्यू 0.10 डॉलर की मगर बीएनबी कॉइन की बढ़ती लोकप्रियता के कारण कुछ ही सालों में इस कोइन सफलता की ऊंचाइयां प्राप्त की है।

क्रिप्टो मार्केट में बाइनेंस कॉइन की कुल कीमत 80 बिलियन से भी अधिक है।

इसे भी पढ़े Loan Kaise Le Mobile Se? | मोबाइल से लोन कैसे ले सकते है?

सोलाना – Solana (SOL):

सोलाना कॉइन जिस प्रकार से क्रिप्टो मार्केट में एक गति पकड़ रहा है। उससे तो यही मालूम पड़ता है कि यह कोई जल्दी ही बड़े कोइंस की सूची में शामिल हो जाएगा। इसको इनकी प्रतिस्पर्धा में एथेरियम है। जिसके साथ इसका मुकाबला चल रहा है। हालांकि पिछले कुछ दिनों में इसे गिरावट का सामना भी करना पड़ा।

मगर जिस प्रकार इसको इनकी कीमतों में उछाल देखने को मिला है, उससे एक अंदाजा लगाया जा सकता है। कि यह कोइन बहुत जल्दी दुनिया के चारों हिस्सो में अपनी एक छाप छोड़ेगा।

फिलहाल सोलाना कॉइन की कीमत यूएस $100 से भी अधिक है। इस कॉइन की शुरुआत 2017 में हुई और इसको Anatoly Yakovenko ने लॉन्च किया।

यदि आप सोलाना कोइन मे इन्वेस्ट करते हैं, तो यह आपकी एक बेहतरीन निवेश पसंद हो सकती है। जिस प्रकार से सोलाना कोइन वृद्धि की है, उससे मालूम पड़ता है कि यह एक लोंगटर्म निवेश की पसंद बन सकती है।

एक्सपर्ट मानते हैं 2025 तक यह कॉइन दुनिया में अपनी एक मजबूत स्थिति को पा लेगा। और इसकी कीमत $400 के आसपास हो जाएगी।

इनके अलावा भी बहुत सारी क्रिप्टोकरंसी वर्तमान समय में मौजूद है। जिनमें से कुछ का भविष्य बहुत अच्छा होने वाला है। जैसा कि मैंने पहले भी कहा था क्रिप्टोकरंसी के लिए आपको क्रिप्टो मार्केट के बारे में ज्ञान होना बहुत जरूरी है।

क्योंकि यह मार्केट स्थिर नहीं रहती। जिसकी वजह से इसमें पैसा डूबने का भी डर सताता रहता है। “Cryptocurrency Kya Hoti (Hota) Hai in Hindi? Cryptocurrency Me Invest Kaise Kare (Kaise Kharide/ Trading Kaise Kare) and Cryptocurrency Se Paise Kaise Kamaye?”

CryptoCurrency के फायदे

दोस्तों किसी भी चीज के फायदे और नुकसान दोनों ही होते हैं। क्योंकि क्रिप्टोकरंसी हाल ही में फेमस हुई है, तो इसलिए लोगों को क्रिप्टोकरंसी के फायदे और नुकसान जानने में बी कठिनाइयां आती हैं। लोगों के सवालों का जवाब मिल पाना भी ज्ञान की कमी के कारण मुश्किल होता है। आइए जानते हैं, क्रिप्टोकरंसी के फायदों के बारे में।

जल्दी भुगतान:

क्रिप्टो करेंसी के माध्यम से आप कुछ ही मिनटों में एक अकाउंट से दूसरे अकाउंट में मनी ट्रांसफर कर सकते हैं। जैसा कि अक्सर देखा जाता है, विदेशों में पैसा भेजने पर हमको कई प्रकार की अड़चन सामने आती हैं। इसमें ऐसा कुछ नहीं होता। आप चंद मिनटों में अपने बैंक से दूसरे के अकाउंट में पैसा डाल सकते हैं।

कम ट्रांसफर शुल्क:

अक्सर हम देखते हैं, ऑनलाइन पेमेंट का भुगतान करते समय हम को भारी टैक्स देना पड़ता है। मगर क्रिप्टोकरंसी में ऐसा कुछ नहीं होता। इसमें आपको मामूली सा ट्रांसफर शुल्क देना पड़ता है। जिसके बदले में आप आसानी से एक बैंक से दूसरे बैंक में पैसा ट्रांसफर कर सकते हैं।

एक्सेसिबिलिटी:

क्रिप्टो करेंसी को कोई भी इस्तेमाल में ले सकता है। क्योंकि यह करेंसी पूरी तरह से कंप्यूटर बेस्ड होती है, तो आपको कंप्यूटर की नॉलेज होना जरूरी है। अन्यथा कोई भी इस करेंसी का इस्तेमाल कर सकता है।

सुरक्षा:

आपकी मनी क्रिप्टो अकाउंट में सैफ रहती है। कोई भी इसका दुरुपयोग नहीं कर सकता। इसके लिए आपको पासवर्ड दिया जाता है। जिसे आप किसी के साथ भी शेयर ना करें। ताकि आपके साथ किसी प्रकार की धोखाधड़ी ना हो। क्रिप्टो मार्केट पूरी तरह से सुरक्षित है, इसमें फ्रॉड होने के चांसेस बहुत कम होते हैं।

गोपनीयता (Privacy):

क्रिप्टो करेंसी में आपकी गोपनीयता का पूरा ख्याल रखा जाता है। आपकी किसी भी पर्सनल इंफॉर्मेशन को कोई भी कंपनी इस्तेमाल नहीं कर सकती।

पारदर्शिता:

जैसा कि हम देखते हैं कागजी मुद्रा में ब्लैक मनी की समस्या बहुत अहम होती है। कागजी मुद्रा में फ्रॉड होने के चांसेज बहुत ज्यादा होते हैं। इसी समस्या से बचने के लिए क्रिप्टो करेंसी में पारदर्शिता का पूरा ख्याल रखा गया। इसमें सभी ट्रांजैक्शंस प्रदर्शित होते हैं। इके माध्यम से किसी भी अकाउंट का वॉलेट बैलेंस चेक किया जा सकता है।

विविधता:

यह एक इंटरनेशनल प्लेटफार्म है, तो आपको यहां पर विविधता भी देखने को मिलती है। आप दुनिया भर के किसी भी ट्रेडर के साथ अपना व्यवसाय कर सकते हैं। अब अपने शेयर बेच सकते हैं। और दुनिया भर में कहीं से भी शेयर खरीद सकते हैं। “Cryptocurrency Kya Hoti (Hota) Hai in Hindi? Cryptocurrency Me Invest Kaise Kare (Kaise Kharide/ Trading Kaise Kare) and Cryptocurrency Se Paise Kaise Kamaye?”

Cryptocurrency के नुकसान

दोस्तों कहते हैं हर सिक्के के 2 पहलू होते हैं, मगर हमको दोनों पहलुओं के बारे में ही सही प्रकार से जान लेना चाहिए। क्योंकि आधा अधूरा ज्ञान आपको हानि पहुंचा सकता है। क्रिप्टोकरंसी के भी दो पहलू हैं, और दोनों पहलू बहुत ही ज्यादा जरूरी है।

एक तरफ तो इसमें हम को बहुत ज्यादा फायदा देखते हैं वहीं दूसरी तरफ क्रिप्टोकरंसी के बहुत बड़े नुकसान भी देखने को मिले हैं। इसलिए हमको दोनों पहलुओं के बारे में ही सही जानकारी होना बहुत जरूरी है।

साइबर असुरक्षा:

साइबर सिक्योरिटी हमेशा से कंप्यूटरों के लिए एक चुनौती रही है। कोई भी काम जो पूरी तरह से कंप्यूटर पर डिपेंड हो, उसमें साइबर सुरक्षा की चिंता सताती रहती है। क्रिप्टोकरंसी अकाउंट पूरी तरह से कंप्यूटर बेस्ड होता है।

यदि कोई हैकर आपके अकाउंट को हैक कर लेता है, तो आपको बहुत नुकसान हो सकता है। जैसा कि हमने पिछले कुछ सालों में देखा कि एक करोड़ ने कुछ ही मिनटों में कई कई करोड़ों रुपए के अकाउंट खाली कर दिए।

मूल्य अस्थिरता और निहित मूल्य की कमी:

क्रिप्टोकरंसी में कॉइन की कीमत घटती बढ़ती रहती है। यह शेयर मार्केट की तरह होता है। जिस प्रकार शेयर्स के दाम घटते बढ़ते रहते हैं। उसी प्रकार कॉइन की वैल्यू भी घटती बढ़ती रहती है।

कई बार ऐसा होता है कि आपने कोई कोई $100 का खरीदा हो। मगर वर्तमान में उसकी कीमत $25 ही बच गई हो। ऐसे में आप को भारी नुकसान हो सकता है। क्रिप्टो करेंसी में मूल्य की असफलता और निहित मूल्य में कमी एक बड़ी चुनौती है।

सरकार के नियंत्रण से बाहर:

क्रिप्टो करेंसी की सबसे बड़ी कमी यही है कि यह करंट से किसी के भी नियंत्रण में नहीं आती। इसलिए ही सरकार इस करेंसी को स्वीकार करने में असहज महसूस करती हैं। क्योंकि क्रिप्टो करेंसी को अन्य मुद्रा की तरह नियंत्रित नहीं किया जा सकता, तो सरकार इस प्रकार की मुद्रा को क्यों ही स्वीकार करेगी।

ट्रांजेक्शन संबंधी समस्या:

दोस्तों क्रिप्टो करेंसी ऑनलाइन होती है तो इसमें गलती की भी कई प्रकार की संभावनाएं आ जाती हैं। क्रिप्टो करेंसी में ट्रांजैक्शन संबंधी कई प्रकार की दिक्कत देखने को मिलती हैं। यदि आपने गलती से किसी अन्य के पास अपनी मनी को ट्रांसफर कर दिया तो, इस पेमेंट को वापस नहीं लिया जा सकता. क्योंकि पेमेंट रिवर्स का कोई ऑप्शन इसमें नहीं दिया गया।

वॉलेट आईडी का गुम होना:

दोस्तों यदि किसी कारणवश आप अपनी वॉलेट आईडी गुम कर देते हैं, या फिर आप अपनी आईडी के लॉगिन पासवर्ड को भूल जाते हैं। तो इस स्थिति में आप अपना अकाउंट भी खो सकते हैं। यदि आप अपना वॉलेट आईडी का पासवर्ड भूल गए हैं, तो आपकी सारी राशि बर्बाद हो सकती है।

इसके अलावा कुछ अन्य और भी नुकसान हो सकते हैं, मगर मुख्य रूप से क्रिप्टो करेंसी में यही डिसएडवांटेजेस देखने को मिलते हैं। “Cryptocurrency Kya Hoti (Hota) Hai in Hindi? Cryptocurrency Me Invest Kaise Kare (Kaise Kharide/ Trading Kaise Kare) and Cryptocurrency Se Paise Kaise Kamaye?”

Cryptocurrency Legal in India

दोस्तों इस सवाल का जवाब दे पाना भारत के परिपेक्ष में इतना आसान नहीं है। क्योंकि भारतीय सरकार क्रिप्टोकरंसी के बारे में अभी (03-03-2022 तक) किसी भी प्रकार का फैसला लेने में असहज महसूस कर रही है।

भारत में जिस प्रकार से क्रिप्टोकरंसी को सरकार की ओर से देखा जा रहा है, उससे तो मालूम पड़ता है कि क्रिप्टोकरंसी का भविष्य भारत में शायद ही फले फूले। आरबीआई ने पिछले कुछ साल पहले क्रिप्टोकरंसी पर बैन लगा दिया था। मगर सुप्रीम कोर्ट ने क्रिप्टो करेंसी से बैन हटा दिया। हाल ही में लोकसभा में सरकार की ओर से कहा गया कि क्रिप्टोकरंसी पर बैन लग सकता है।

मगर कुछ ही दिन बाद भारत की वित्त मंत्री ने क्रिप्टोकरंसी ट्रांजैक्शन पर 30 परसेंट का टैक्स लगा दिया। ऐसे में इन्वेस्टर्स कंफ्यूज हो गए हैं, कि यदि बैंन ही होना था, तो इस पर टैक्स क्यों लगाया गया? यदि टैक्स लगा ही दिया है, तो फिर बेन क्यों होगा?

दरअसल यह सवाल भारत के परिपेक्ष में इतना आसान नहीं है। अभी तक भारत कि केंद्र सरकार का क्रिप्टोकरंसी के लिए एक निष्पक्ष स्टैंड नहीं है। जिस को मद्देनजर रखते हुए इस सवाल का जवाब दे पाना मुश्किल होता है।

हालांकि अभी भारत में क्रिप्टोकरंसी नहीं है। मगर जल्दी ही क्रिप्टोकरंसी को रेगुलेट करने हेतु नियम और कानून लाए जा सकते हैं। अभी क्रिप्टो करेंसी पर किसी प्रकार का कोई रेगुलेशन लागू नहीं होता। “Cryptocurrency Kya Hoti (Hota) Hai in Hindi? Cryptocurrency Me Invest Kaise Kare (Kaise Kharide/ Trading Kaise Kare) and Cryptocurrency Se Paise Kaise Kamaye?”

इसे भी पढ़े Bank Se Personal Loan Lene Ka Tarika | बैंक से Personal Loan कैसे ले?

Cryptocurrency Future in India

भारत में क्रिप्टो में इन्वेस्ट करने वाले लोगों को क्रिप्टोकरंसी के फ्यूचर के बारे में बहुत सारी क्वेरीज होती हैं। बहुत सारे ऐसे अनसुलझे सवाल हैं, जिनका जवाब मिलना चाहिए भारत में क्रिप्टोकरंसी तीव्र गति से वृद्धि कर रही है। प्रतिदिन भारत में क्रिप्टो करेंसी के निवेशक बढ़ते जा रहे हैं।

मगर सरकार अभी भी क्रिप्टो करेंसी को लेकर असमंजस की स्थिति में है। भारत में क्रिप्टो को लेकर बहुत सारे अनिश्चितायें हैं। क्योंकि कई बार केंद्र सरकार की तरफ से क्रिप्टोकरंसी को बैन करने के संकेत दिए गए हैं। तो कई बार क्रिप्टो करेंसी को महत्व देने की बात की गई है।

कुछ दिन पहले ही हमने न्यूज़ चैनलस पर देखा कि सरकार ने प्राइवेट करेंसी स्कोर बंद करने का फैसला लिया है। उसके कुछ दिन पश्चात ही सरकार ने सभी तरह की क्रिप्टो ट्रांजैक्शंस पर 30 परसेंट टैक्स लगा दिया।

हाल ही में भारत की वित्त मंत्री ने बताया कि भारतीय रिजर्व बैंक भी अप्रैल महीने में खुद की क्रिप्टोकरंसी जारी करेगा। इस बात से क्रिप्टो निवेशको को राहत पहुंची है। यदि भारत खुद की क्रिप्टोकरंसी जारी करता है, तो इसका मतलब भारत में क्रिप्टो करेंसी बैन नहीं होगी।

इसी वजह से क्रिप्टो में निवेश करने वाले लोग खुश हैं। यदि ऐसा होता है तो क्रिप्टो करेंसी का फ्यूचर भारत में देखने लायक होगा। भारत का एक बड़ा तबका क्रिप्टोकरंसी में रुचि रखता है, और इसमें निवेश करना पसंद कर रहा है।

जैसे जैसे समय बढ़ता जाएगा ऐसे ऐसे क्रिप्टोकरंसी अपनी और अधिक से अधिक लोगों को आकर्षित करेगी। यदि भारत मैं क्रिप्टोकरंसी बेन नहीं हुआ तो क्रिप्टोकरंसी का भविष्य भारत में सफलता के झंडे गाड़ सकता है। “Cryptocurrency Kya Hoti (Hota) Hai in Hindi? Cryptocurrency Me Invest Kaise Kare (Kaise Kharide/ Trading Kaise Kare) and Cryptocurrency Se Paise Kaise Kamaye?”

Cryptocurrency Review

इसमें कोई दो राय नहीं कि भविष्य में क्रिप्टोकरंसी डिजिटल लेन-देन में क्रांति लाएगी। जिस प्रकार से इतने कम समय में ही बहुत ज्यादा लोगों को प्रभावित किया है। आने वाले समय में जल्दी ही सभी देशों की सरकारें भी इसे स्वीकार करेंगी।

यह भी सत्य है कि क्रिप्टोकरंसी के माध्यम से बहुत सारे लोगों ने बहुत धन कमाया। क्रिप्टोकरंसी में पैसा कमाने के बहुत सारे विकल्प मौजूद हैं। जिनके माध्यम से आप स्मार्टवर्क की मदद से अच्छी खासी आमदनी कर सकते हैं।

मगर क्रिप्टो करेंसी इतनी आसान भी नहीं है जितनी लगती है कृपया करेंसी में आपको अपडेट रखना पड़ता है। यदि आप समय के साथ अपडेटेड नहीं रहते तो आपको इस धंधे में नुकसान भी उठाना पड़ सकता है। सबसे पहले तो आपको क्रिप्टोकरंसी के हर एक पहलू को जानना बहुत जरूरी होता है।

Crypto currency ब्लॉकचेन की मदद से नियंत्रित की जाती है, इसलिए आपको ब्लॉकचेन के बारे में जान लेना भी बहुत जरूरी है। ब्लॉकचेन के बारे में आप नीचे दी गई लिंक के माध्यम से जान सकते हैं।

यदि आपको क्रिप्टो करेंसी के बारे में पूर्ण जानकारी है. और आपने किसी के साथ क्रिप्टो करेंसी में निवेश कर कर देख रखा है। तो आप क्रिप्टोकरंसी में निवेश कर सकते हैं। अन्यथा मैं आपको सलाह दूंगा पहले किसी जानने वाले के साथ क्रिप्टो में काम कर कर देखें, जब तक आप को एक्सपीरियंस नहीं हो जाता। तब तक ज्यादा रुपए का रिस्क ना लें। क्योंकि यह फिल्ड रिस्क से भरा है, और इसमें बहुत ज्यादा अस्थिरता होती है इसलिए ही आपको क्रिप्टो करेंसी में जाने से पहले क्रिप्टो के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त कर लेनी चाहिए।

इसे भी पढ़े Paisa Kamane Wala Game 2022 (पैसा कमाने वाला गेम)

Conclusion (Cryptocurrency Kya Hai?)

वर्तमान समय में क्रिप्टोकरंसी डिजिटल लेनदेन के मामले में एक क्रांति को जन्म दिया है। जिस प्रकार लोग क्रिप्टोकरंसी में निवेश कर कर पैसा कमा रहे हैं, उससे तो यही मालूम पड़ता है। भविष्य में इसका बहुत ज्यादा स्कोप आने वाला है। जैसा कि हम आपको नई-नई और महत्वपूर्ण जानकारियों से रूबरू कराते हैं। उसी कड़ी में आपको आज क्रिप्टो करेंसी के बारे में सभी महत्वपूर्ण पहलुओं की जानकारी दी।

आज हमने क्रिप्टोकरंसी की मुख्य बातों पर चर्चा की जैसे कि “Cryptocurrency Kya Hoti (Hota) Hai in Hindi? Cryptocurrency Me Invest Kaise Kare (Kaise Kharide/ Trading Kaise Kare) and Cryptocurrency Se Paise Kaise Kamaye?” इत्यादि के बारे में। ऐसे ही अन्य महत्वपूर्ण जानकारियों के लिए आप हमारी वेबसाइट के होम पेज को विजिट कर सकते हैं। जहां पर आपके दैनिक जीवन में काम आने वाली बहुत सारी जानकारियां प्रदान कराई गई हैं।

FAQ’s for Cryptocurrency Kya Hai :-

क्रिप्टो करेंसी क्या है और कैसे काम करती है?

Cryptocurrency (क्रिप्टो करेंसी) डिजिटल मुद्रा है जिसका इस्तेमाल हम ऑनलाइन ट्रांजैक्शन करने के लिए करते हैं। क्रिप्टो करेंसी में निवेश करके पैसे भी कमाए जा सकते हैं। वर्तमान में क्रिप्टोकरंसी को बहुत ज्यादा महत्व दिया जा रहा है। क्रिप्टो करेंसी ब्लॉकचेन के आधार पर कार्य करती है। ब्लॉकचेन पर काम करने की वजह से ही इसमें फ्रॉड होने की संभावनाएं बहुत कम होती हैं।

क्रिप्टो करेंसी का भविष्य क्या है?

भविष्य में क्रिप्टोकरंसी हमारे दैनिक जीवन को बहुत हद तक प्रभावित करेगी। भविष्य में क्रिप्टोकरंसी को सभी देशों की सरकारें कानूनी रूप से इसे लागू कर देंगे, और भविष्य में सरकार ही अपने देश के लिए खुद की क्रिप्टोकरंसी भी निकालेंगी। क्रिप्टोकरंसी का भविष्य बढ़ता ही जा रहा है, आने वाले समय में क्रिप्टोकरंसी अपने चरम पर होगी।

कौन सी क्रिप्टोकरेंसी खरीदनी चाहिए?

यह सवाल इतना आसान भी नहीं है, मगर फिर भी आपको उस क्रिप्टो करेंसी में निवेश करना चाहिए। जिसकी भविष्य में मांग और ज्यादा पढ़ने वाली हो। जितनी भी भविष्य में किसी क्रिप्टोकरंसी की मांग बढ़ेगी, उतना ही आपको लाभ मिलेगा। अक्सर देखा गया है, जिन लोगों ने भी पुरानी क्रिप्टोकरंसी में पैसे लगाए हैं। उनको उतना ही लाभ मिला है। उदाहरण के लिए बिटकॉइन क्रिप्टोकरंसी खरीदना आपके लिए लाभदायक सिद्ध हो सकता है। वर्तमान में बिटकॉइन क्रिप्टोकरंसी में नंबर एक पर स्थित है, और इसकी वैल्यू बढ़ती ही जा रही है। ऐसे में क्रिप्टोकरंसी में वही कोइन खरीदें जिसकी बढने की उम्मीद और ज्यादा हों।

सबसे सस्ती क्रिप्टो करेंसी कौन सी है?

वर्तमान में बहुत सारी ऐसी क्रिप्टो करेंसी हैं, जिनको महज चंद पैसों में ही खरीदा जा सकता है। और भविष्य में इनके बढ़ने के भी बहुत ज्यादा चांसेस हैं।
Underdog – कीमत: ₹ 0.20-0.40
SHIBA INU – कीमत: ₹ 0.001700-0.002700
BitcoinZ- कीमत: ₹ 0.0452300-0.050000
Telcoin कीमत: ₹ 0.582000-0.673000
DOGGY coin- कीमत: ₹ 0.1750-0.1815
Dock- कीमत: ₹ 3.15-3.75
VeChain- कीमत: ₹ 5.0-5.4
(TRX) TRON – कीमत: ₹ 5.3-5.5
Lithium- कीमत: ₹ 6.80-6.90

क्रिप्टो करेंसी का रेट क्या है?

क्रिप्टो करेंसी का रेट शेयर मार्केट की तरह घटता है या बढ़ता रहता है। इसलिए आपको क्रिप्टोकरंसी का रेट देखने के लिए किसी ऐसी वेबसाइट का सहारा लेना चाहिए, जो मुख्य रूप से क्रिप्टो पर ही काम कर रही हो। या फिर गूगल के माध्यम से भी आप क्रिप्टो करेंसी का रेट जान सकते हैं।

बिटकॉइन कौन से देश की करेंसी है?

दोस्तों बिटकॉइन किसी भी देश की करेंसी नहीं है। अभी तक किसी बड़े देश ने बिटकॉइन को करंसी के रूप में नहीं अपनाया है। हालांकि सेंट्रल अमेरिका का एक छोटा सा देश अल साल्वाडोर ने बिटकॉइन को करंसी के रूप में मान्यता दी है। माना जाता है Satoshi Nakamoto ने बिटकॉइन का अविष्कार किया। अनुमान लगाया जाता है कि ये जापान के निवासी थे।

क्रिप्टोकोर्रेंसी कैसे बनती है?

क्रिप्टोकरंसी शेयर मार्केट से मिलती-जुलती हुई टेक्नोलॉजी है। इसमें जब भी कोई नया कॉइन रिलीज किया जाता है। तब इसके लिए इनीशियल कॉइन्स ऑफरिंग (ICO) रिलीज़ किए जाते हैं। उसी प्रकार जब कोई शेयर बाजार में शेयर रिलीज किया जाता है तो इसके लिए (IPO) इनीशियल पब्लिक ऑफरिंग रिलीज़ किए जाते हैं।

भारत की क्रिप्टो करेंसी क्या है?

भारतीय सरकार अभी क्रिप्टोकरंसी को लेकर स्पष्ट नहीं है। मगर हाल ही में वित्त मंत्री ने बयान दिया है, कि सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया जल्दी ही अपनी खुद की क्रिप्टोकरंसी जारी करेगा। इस क्रिप्टोकरंसी का नाम सेंट्रल बैंक ऑफ डिजिटल करेंसी (CBDI) हो सकता है।


अपने दोस्तों के साथ शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!