Credit Card Kya Hota Hai | Credit Card क्या है और इसके प्रकार?

अपने दोस्तों के साथ शेयर करें

Credit Card Kya Hota Hai | Credit Card Kaise Use Kiya Jata Hai | Types of Credit Card in Hindi | Credit Card Benefits in Hindi: दोस्तों! वर्तमान समय में ऑनलाइन शॉपिंग के प्रति लोगों का रुझान बढ़ता ही जा रहा है। इसी रुझान की वजह से कई प्रकार के पेमेंट विकल्प भी उभर कर सामने आ रहे हैं।

इन विकल्प में क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड, नेट बैंकिंग और यूपीआई आदि शामिल है। ऑनलाइन ही नहीं बल्कि ऑफलाइन शॉपिंग में भी कई प्रकार के पेमेंट ऑप्शन मिलने लगे हैं। इनमें से एक ऑप्शन क्रेडिट कार्ड के बारे में तो आप सभी ने जरूर सुना ही होगा।

वैसे भी आजकल के डिजिटलाइजेशन युग में नकद लेनदेन का प्रचलन बहुत ही कम हो रहा है। इसकी जगह पर क्रेडिट कार्ड जैसे पेमेंट ऑप्शन ज्यादा इस्तेमाल होने लगे हैं। परंतु अक्सर लोगों का सवाल होता है कि क्रेडिट कार्ड क्या होता है? तो दोस्तों, अगर आप भी क्रेडिट कार्ड क्या होता है और क्रेडिट कार्ड कैसे इस्तेमाल किया जाता है? आदि संबंधित पूरी जानकारी विस्तार से लेना चाहते हैं। तो इस आर्टिकल के साथ अंत तक जुड़े रहे।

हालांकि इंटरनेट पर आपको क्रेडिट कार्ड संबंधित कई आर्टिकल मिल जाएंगे। लेकिन हमारा विश्वास है कि इस लेख से बेहतरीन जानकारी आपको कहीं भी नहीं मिल सकती है।

हम वादा करते हैं कि क्रेडिट कार्ड के बारे में पूर्ण रूप से सटीक जानकारी देने की कोशिश करेंगे। तो चलिए दोस्तों, अब बिना समय बर्बाद किए जानते हैं क्रेडिट कार्ड के बारे में संक्षेप डिटेल से।

Credit Card Kya Hota Hai | Credit Card Kaise Use Kiya Jata Hai | Types of Credit Card in Hindi | Credit Card Benefits in Hindi

क्रेडिट कार्ड क्या है? (What is Credit Card in Hindi/ Credit Card Kya Hota Hai)

क्रेडिट कार्ड एक प्रकार का उधार खाता होता है जिसे किसी फाइनेंशियल संस्थान या बैंक द्वारा प्रदान किया जाता है। यह एक प्लास्टिक निर्मित कार्ड होता है जिसका इस्तेमाल शॉपिंग बिल के भुगतान के लिए किया जाता है। क्रेडिट कार्ड के लिए एक प्री अप्रूव्ड लिमिट निर्धारित की जाती है जिसके माध्यम से आप अपनी सुविधा अनुसार कैशलेस ट्रांजेक्शन या पेमेंट सकते हैं।

आपके क्रेडिट कार्ड की लिमिट के लिए कई अन्य फैक्टर जैसे कि क्रेडिट स्कोर, क्रेडिट हिस्ट्री और आपकी आय भी चेक की जाती है। यदि आप क्रेडिट कार्ड के बिल का भुगतान निश्चित समय अवधि के दौरान ही कर देते हैं तो आपको किसी तरह का ब्याज देने की आवश्यकता भी नहीं होती है।

लेकिन यदि आप निश्चित समय अवधि के बाद क्रेडिट बिल का भुगतान करते हैं तो एक निश्चित ब्याज दर आपकी क्रेडिट लिमिट पर शुरू हो जाता है। “Credit Card Kya Hota Hai | Credit Card Kaise Use Kiya Jata Hai | Types of Credit Card in Hindi | Credit Card Benefits in Hindi”

इसे भी पढ़े Ghar Baithe Paise Kaise Kamaye (घर बैठे पैसे कैसे कमाए)

क्रेडिट कार्ड कितने प्रकार के होते हैं? (Types of Credit Card in Hindi)

क्रेडिट कार्ड को प्रमुख रूप से रिवार्ड, कम ब्याज और क्रेडिट बिल्डिंग कार्ड के आधार पर विभाजित किया जाता है। कुछ प्रमुख प्रकार के क्रेडिट कार्ड इस प्रकार है:

  • स्टैंडर्ड क्रेडिट कार्ड
  • रिवार्ड्स क्रेडिट कार्ड
  • चार्ज क्रेडिट कार्ड
  • सम प्राइम क्रेडिट कार्ड
  • बैलेंस ट्रांसफर क्रेडिट कार्ड
  • स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड
  • सिक्योर क्रेडिट कार्ड
  • एंटरटेनमेंट क्रेडिट कार्ड
  • ट्रैवल क्रेडिट कार्ड
  • फ्यूल क्रेडिट कार्ड
  • शॉपिंग क्रेडिट कार्ड
  • सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड
  • लाइफस्टाइल क्रेडिट कार्ड
  • लिमिटेड पर्पज कार्ड
  • बिजनेस क्रेडिट कार्ड
  • बेसिक क्रेडिट कार्ड
  • नो एनुअल फीस क्रेडिट कार्ड
  • लो इंटरेस्ट क्रेडिट कार्ड
  • कैशबैक क्रेडिट कार्ड
  • किसान क्रेडिट कार्ड

उपरोक्त सभी क्रेडिट कार्ड में से भारत में सबसे ज्यादा ट्रैवल क्रेडिट कार्ड, फ्यूल क्रेडिट कार्ड, रिवार्ड्स क्रेडिट कार्ड, शॉपिंग क्रेडिट कार्ड और सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल किया जाता है।

  • ट्रैवल क्रेडिट कार्ड: ट्रैवल क्रेडिट कार्ड के द्वारा सभी एयरलाइन टिकट बुकिंग, बस, रेल टिकट बुकिंग, होटल बुकिंग और कैब बुकिंग आदि पर छूट प्रदान की जाती है।
  • फ्यूल क्रेडिट कार्ड: वहीं फ्यूल क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करके आप अपने यातायात के खर्च को कम कर सकते हैं।
  • रिवार्ड क्रेडिट कार्ड: रिवॉर्ड क्रेडिट कार्ड में आपको विभिन्न प्रकार की खरीददारी और लेन-देन करने पर रिवॉर्ड पॉइंट प्राप्त होते हैं।
  • शॉपिंग क्रेडिट कार्ड: शॉपिंग क्रेडिट कार्ड के द्वारा आप ऑनलाइन और ऑफलाइन पार्टनर स्टोर पर खरीदारी करते समय डिस्काउंट ले सकते हैं। साथ ही कैशबैक, डिस्काउंट वाउचर और अन्य ऑफर भी शॉपिंग क्रेडिट कार्ड पर मिलते ही रहते हैं।
  • सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड: सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड के द्वारा क्रेडिट कार्ड होल्डर अपने क्रेडिट स्कोर को मजबूत बना सकते हैं। एक सिक्योर क्रेडिट कार्ड आपको आकर्षक ब्याज दर प्रदान करता है। परंतु अपने क्रेडिट स्कोर को बढ़ाने के लिए आपको क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल भी सही तरीके से करना होगा।

सबसे बेस्ट क्रेडिट कार्ड कौन सा है (Which is the Best Type of Credit Card)?

यह कहना वास्तव में मुश्किल है कि सबसे अच्छा क्रेडिट कार्ड कौन सा है। दरअसल कुछ क्रेडिट कार्ड कम ब्याज दर प्रदान करते हैं। वहीं अन्य क्रेडिट कार्ड बेस्ट रिवॉर्ड पॉइंट ऑफर करने के लिए बेहतरीन है।

इसी तरह, भारत के कुछ अन्य प्रकार के क्रेडिट कार्ड उच्च स्तर के लाभ जैसे कि गोल्फ कोर्स, एयरपोर्ट लॉन्ज आदि के लिए लोगों को आकर्षित करते है। लेकिन फिर भी अगर सबसे बेहतरीन क्रेडिट कार्ड की बात की जाए तो यह लो इंटरेस्ट और रिवार्ड क्रेडिट कार्ड को ही माना जा सकता है।

हालांकि अत्याधिक ब्याज और पेनल्टी से राहत पाने के लिए बैंक ट्रांसफर क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करना भी समझदारी भरा निर्णय हो सकता है। बैंक ट्रांसफर क्रेडिट कार्ड का भुगतान करने के लिए बैंक द्वारा 6 महीने से लेकर 21 महीने तक की समय अवधि प्रदान की जाती है।

परंतु यदि आप बैंक ट्रांसफर क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करते हैं। तो इस पर कुछ फीस भी लागू होती है जो क्रेडिट कार्ड की कुल राशि का 5% हिस्सा होता है।

यदि आप इस दुविधा में हैं कि सबसे बेस्ट क्रेडिट कार्ड कौन से बैंक का है? तो आप यस फर्स्ट प्रेफर्ड क्रेडिट कार्ड, एचडीएफसी रेगलिया क्रेडिट कार्ड, एसबीआई कार्ड एलीट, एक्सिस बैंक क्रेडिट कार्ड, सिम्पली क्लिक एसबीआई कार्ड, सिटी प्रीमियर माइल्स क्रेडिट कार्ड और एसबीआई बीपीसीएल ऑक्टेन क्रेडिट कार्ड में से चुन सकते हैं। “Credit Card Kya Hota Hai | Credit Card Kaise Use Kiya Jata Hai | Types of Credit Card in Hindi | Credit Card Benefits in Hindi”

इसे भी पढ़े SBI Me Online Account Kaise Khole | SBI में ऑनलाइन अकाउंट कैसे खोले

क्रेडिट कार्ड के लिए योग्यता (Eligibility For Credit Card)

क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन करने हेतु आवेदक की न्यूनतम आयु 18 वर्ष होनी चाहिए। इसके अलावा आवेदन कर्ता का नौकरी पेशा या स्वरोजगार होना जरूरी है। मतलब कि आवेदक के पास आय का पुख्ता स्त्रोत होना आवश्यक पहलू है। इसके अलावा आवेदक की क्रेडिट हिस्ट्री भी सकारात्मक होनी चाहिए।

Credit Card (क्रेडिट कार्ड) बनवाने के लिए डॉक्यूमेंट (Documents Required For Credit Card)

क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन करने से पहले आवेदन कर्ता को कुछ जरूरी दस्तावेज का प्रबंध कर लेना चाहिए जो कि निम्नलिखित हैं:

  • निजी पहचान पत्र: आधार कार्ड, मतदाता पहचान पत्र
  • निवास स्थान प्रमाण पत्र: ड्राइविंग लाइसेंस और पासपोर्ट आदि।

क्रेडिट कार्ड का उपयोग कैसे करें (How To Use Credit Card)?

Credit Card का इस्तेमाल करना बहुत ही लाभदायक हो सकता है। परंतु इसका इस्तेमाल करते समय आपको समझदारी से काम लेना चाहिए। दरअसल क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल आप बिल भुगतान और ट्रांजैक्शन में तो करते ही हैं।

इसके अलावा भी क्रेडिट कार्ड ढेरों लाभ प्रदान करने के लिए जाना जाता है। आइए जानते हैं कि किस प्रकार आप क्रेडिट कार्ड से सही फायदा ले सकते हैं।

  • सही कार्ड का चुनाव: आप जिस भी वस्तु की खरीदारी करना चाहते हैं। क्रेडिट कार्ड का चुनाव भी उसी के आधार पर करें। उदाहरण के तौर पर यदि आप यात्रा पर ज्यादा रहते हैं तो आपको ट्रैवल क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करना चाहिए। ताकि आप फ्लाइट टिकट या होटल आदि की बुकिंग करवाने पर डिस्काउंट या रिवॉर्ड पॉइंट प्राप्त कर सकें।
  • आपातकालीन स्थिति में लोन का चुनाव: किसी भी तरह की इमरजेंसी के दौरान आप क्रेडिट कार्ड लोन के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • ऑनलाइन शॉपिंग: अधिक रिवार्ड प्वाइंट्स लेने के लिए आप ऑनलाइन शॉपिंग कर सकते हैं। दरअसल ऑनलाइन शॉपिंग करने पर 2 गुना अधिक रिवॉर्ड पॉइंट मिलते हैं।
  • ईएमआई का विकल्प: क्रेडिट कार्ड के माध्यम से कोई भी वस्तु खरीदते हैं तो आपके पास उक्त वस्तु के बिल का भुगतान करने के लिए ईएमआई का विकल्प रहता है। ऐसा करने पर आपके लिए बिल का भुगतान करना आसान हो सकता है।
  • रियायती अवधि का फायदा: यदि आप निश्चित अवधि के दौरान क्रेडिट कार्ड बिल का भुगतान करने में असमर्थ रहते हैं तो आप रियायती अवधि का लाभ उठा सकते हैं। दरअसल रियायती अवधि में आपको 15 से 20 दिन की अतिरिक्त छूट दे दी जाती है। “Credit Card Kya Hota Hai | Credit Card Kaise Use Kiya Jata Hai | Types of Credit Card in Hindi | Credit Card Benefits in Hindi”

Credit Card और Debit Card में क्या अंतर है (What is the difference between Credit Card And Debit Card)?

दरअसल क्रेडिट कार्ड और डेबिट कार्ड में कुछ समानताएं भी है। इन दोनों कार्ड में 16 डिजिट नंबर होता है और अन्य डिटेल जैसे कि एक्सपायरी डेट और आइडेंटिफिकेशन नंबर (पिन/ सीवीवी) भी होता है।

डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल आप एटीएम से कैश निकालने और कैशलेस ट्रांजैक्शन में कर सकते हैं, फिर चाहे यह लेनदेन ऑनलाइन हो या ऑफलाइन। परंतु डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड के बीच के अंतर को समझना भी जरूरी है। आइए जानते हैं कि क्रेडिट कार्ड और डेबिट कार्ड में क्या अंतर है?

अगर बात की जाए क्रेडिट कार्ड के बारे में तो इसमें आप किसी भी बैंक या फाइनेंशियल संस्थान से पैसा उधार लेते हैं। क्रेडिट कार्ड के अंतर्गत लिए गए पैसे की प्री अप्रूव्ड सीमा निर्धारित की जाती है।

परंतु डेबिट कार्ड आपके बचत या फिर चालू खाते से बैंक द्वारा जारी किया जाता है। इसमें आपके द्वारा प्रयोग किये गए पैसे की कटौती आपके ही खाते की जमा राशि से होती है।

इसके अलावा क्रेडिट कार्ड लिमिट के अंदर इस्तेमाल किए गए पैसे को यदि आप निश्चित अवधि के अंदर वापस नहीं करते हैं तो आपको ब्याज भी देना होगा। लेकिन डेबिट कार्ड में किसी तरह की ब्याज राशि बैंक या फाइनेंशियल संस्थान को नहीं देनी होती है क्योंकि यह पैसा आपके खाते में जमा राशि ही होती हैं।

इसके अलावा क्रेडिट कार्ड के माध्यम से कोई भी वस्तु खरीदने पर ईएमआई का विकल्प भी मौजूद रहता है। “Credit Card Kya Hota Hai | Credit Card Kaise Use Kiya Jata Hai | Types of Credit Card in Hindi | Credit Card Benefits in Hindi”

इसे भी पढ़े MIS Post Office Scheme 2022 in Hindi | एमआईएस पोस्ट ऑफिस स्कीम क्या है?

क्रेडिट कार्ड का फायदा (Credit Card Benefits in Hindi)

Credit Card का इस्तेमाल करना आपके लिए वास्तव में लाभदायक है। कहीं भी कैश ले जाने की बजाय आप क्रेडिट कार्ड के माध्यम से बिल का भुगतान और लेनदेन कर सकते हैं। इसके अलावा भी क्रेडिट कार्ड के बहुत सारे फायदे होते हैं जैसे कि रिवार्ड प्वाइंट, कैशबैक, डिस्काउंट और अन्य ऑफर जो आपके लिए अलग से बचत लाभ प्रदान करते हैं।

हालांकि क्रेडिट कार्ड के फायदे आपके द्वारा समझदारी से किए इस्तेमाल पर भी निर्भर करते हैं। तो आइए जानते हैं, क्रेडिट कार्ड के विभिन्न प्रकार के फायदों के बारे में विस्तार से।

  • कैशलेस भुगतान: क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करके आप कहीं भी कैशलेस लेन देन कर सकते हैं। यह नगद पैसा रखने की परेशानी को खत्म करने और सुरक्षा के लिहाज से भी अच्छा आईडिया है।
  • ईएमआई: क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करके खरीदी गई किसी भी चीज को आप ईएमआई पर भी ले सकते हैं।
  • रिवार्ड प्वाइंट: क्रेडिट कार्ड से खरीदारी करने पर गिफ्ट के तौर पर ग्राहकों को रिवॉर्ड पॉइंट दिए जाते हैं। इस रिवार्ड पॉइंट के अंतर्गत आप कैशबैक या फिर कोई अन्य वस्तु खरीदने का लाभ ले सकते हैं।
  • बैंक वेलकम बेनिफिट: क्रेडिट कार्ड पर कस्टमर को बैंक द्वारा वेलकम बेनिफिट भी मिलते हैं। इन बेनिफिट के अंदर मुफ्त सिनेमा हॉल टिकट, छूट, वाउचर, रिवॉर्ड पॉइंट आदि शामिल है।
  • आसान भुगतान: क्रेडिट कार्ड द्वारा शॉपिंग बिल का भुगतान करने के लिए आपको उचित समय अवधि भी दी जाती है। आपके द्वारा निश्चित समय अवधि के अंदर किया गया भुगतान पूरी तरह से ब्याज मुक्त होता है।
  • इमरजेंसी में मददगार: किसी भी मुसीबत या इमरजेंसी में क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करके एटीएम से तुरंत कैश भी प्राप्त किया जा सकता है।

क्रेडिट कार्ड के नुकसान (Disadvantages of Credit Card in Hindi)

दोस्तों, क्रेडिट कार्ड के फायदे के बारे में तो आप पूरी जानकारी प्राप्त कर ही चुके हैं। लेकिन यदि आप क्रेडिट कार्ड लेने के इच्छुक हैं तो आपको इसके नुकसान के बारे में भी जरूर जान लेना चाहिए। क्रेडिट कार्ड लेने के नुकसान निम्नलिखित हैं:

  • क्रेडिट कार्ड लेने हेतु ग्राहक के लिए सबसे पहले क्रेडिट रिकॉर्ड को दुरुस्त करना जरूरी होता है। ऐसे में हर व्यक्ति के लिए क्रेडिट कार्ड लेना थोड़ा मुश्किल भरा हो सकता है।
  • इसके अलावा क्रेडिट कार्ड के माध्यम से एटीएम कैश निकालने पर भी अलग से शुल्क देना पड़ता है।
  • यदि कोई भी ग्राहक निश्चित समय अवधि के अंदर क्रेडिट बिल का भुगतान नहीं कर पाता है तो उसे अलग से ब्याज राशि या पेनल्टी भी देनी होती है।
  • साथ ही सही समय पर भुगतान न करने पर सिबिल स्कोर पर भी इसका विपरीत असर पड़ता है। अक्सर खराब सिबिल स्कोर की वजह से ग्राहक को भविष्य में समस्या का सामना करना पड़ता है।
  • अगर आप बिना किसी खास जरूरत के क्रेडिट कार्ड लेते हैं। तो यह आपके लिए अतिरिक्त कर्ज डालने का कारण भी बन सकता है। “Credit Card Kya Hota Hai | Credit Card Kaise Use Kiya Jata Hai | Types of Credit Card in Hindi | Credit Card Benefits in Hindi”

इसे भी पढ़े SBI Aurum Credit Card (एसबीआई ओरम क्रेडिट कार्ड)

क्रेडिट कार्ड की शर्ते व नियम (Credit Card Terms and Conditions)

  • क्रेडिट कार्ड की गुप्त जानकारी: किसी भी ग्राहक को क्रेडिट कार्ड का नंबर, पिन, ओटीपी, एक्सपायरी डेट और सीवीवी नंबर आदि के बारे में किसी भी अनजान व्यक्ति से जानकारी शेयर नहीं करनी चाहिए।
  • बकाया राशि का भुगतान: अधिकतर मामलों में क्रेडिट कार्ड बिल का भुगतान करने के लिए 50 से 60 दिन की समय अवधि दी जाती है। अगर आप इस निश्चित तिथि तक क्रेडिट कार्ड की बकाया राशि का भुगतान नहीं करते हैं तो आप पर ब्याज चार्ज भी लगेगा।
  • ऑनलाइन शॉपिंग: कई बार ऑनलाइन शॉपिंग के अंतर्गत आपकी क्रेडिट कार्ड डिटेल्स को स्टोर करने का विकल्प होता है। ऐसे में आपको सुरक्षा के लिहाज से मजबूत पासवर्ड बनाना चाहिए ताकि आपके साथ किसी भी तरह की धोखाधड़ी न हो सके।
  • कैश विड्रॉल: जहां तक हो सके क्रेडिट कार्ड से कैश विड्रॉल का लाभ लेने से बचें क्योंकि इस पर आपको अलग से फीस देनी पड़ती है।
  • क्रेडिट कार्ड लिमिट: क्रेडिट कार्ड खरीदने पर आपको एक क्रेडिट कार्ड लिमिट दी जाती है। इस क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करने से पहले आपको अपनी रीपेमेंट क्षमता को जरूर जांच लेना चाहिए ताकि आप अत्यधिक बोझ से बच सकें।
  • ऐड ऑन कार्ड: अधिकतर बैंक द्वारा क्रेडिट कार्ड के साथ ऐड ऑन कार्ड का भी ऑफर दिया जाता है। दरअसल इस कार्ड का इस्तेमाल परिवार का कोई भी सदस्य कर सकता है। परंतु क्रेडिट कार्ड बिल का भुगतान करने की जिम्मेवारी प्राथमिक कार्ड होल्डर की ही रहती है।
  • ईएमआई और वार्षिक शुल्क: क्रेडिट कार्ड पर ईएमआई का भी विकल्प होता है। इसके अलावा वार्षिक शुल्क के अंतर्गत कई कंपनी द्वारा एनुअल फीस या सदस्यता शुल्क भी लिया जाता है। हालांकि कुछ क्रेडिट कार्ड पूरी तरह से चार्ज फ्री होते हैं।

क्रेडिट कार्ड बिल भरने की समय अवधि क्या है? (What is the Credit Card payment Time Limit)

इतना तो आप जान ही चुके हैं कि क्रेडिट कार्ड किसी भी वस्तु को खरीदने के लिए कैशलेस सुविधा प्रदान करता है। साथ ही आप यह भी जानते हैं कि क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करके किसी भी वस्तु पर खर्च किए गए पैसे का भुगतान करने के लिए एक समय अवधि भी होती है।

ऐसे में आपकी जानकारी के लिए बता दें कि क्रेडिट कार्ड बिल भरने के लिए अधिकतर बैंक द्वारा न्यूनतम 30 दिन से लेकर अधिकतम 60 दिन तक का समय दिया जाता है।

यदि आप इस निश्चित समय अवधि के भीतर क्रेडिट कार्ड बिल का भुगतान करने में असमर्थ रहते हैं तो आप की बकाया राशि पर एक निश्चित ब्याज दर लगनी शुरू हो जाती है। “Credit Card Kya Hota Hai | Credit Card Kaise Use Kiya Jata Hai | Types of Credit Card in Hindi | Credit Card Benefits in Hindi”

क्रेडिट कार्ड से लोन कैसे मिलता है? (How to Get a Credit Card Loan?)

वैसे तो क्रेडिट कार्ड एक प्री अप्रूव्ड क्रेडिट लिमिट के साथ अधिकतम 1 महीने के लिए ही दिया जाता है। परंतु यदि आपको पैसों की अत्यंत आवश्यकता आ पड़ती है। तो ऐसे में बैंक द्वारा क्रेडिट कार्ड पर लोन भी दिया जाता है। क्रेडिट कार्ड लोन के लिए बैंक द्वारा सबसे पहले आपके पिछले भुगतान की जांच की जाती है।

यदि आपके द्वारा पिछले ऋण का सही समय पर भुगतान किया गया था। साथ ही आपका क्रेडिट स्कोर भी सही पाया जाता है। तो आपको तुरंत क्रेडिट कार्ड लोन दे दिया जाता है। इस क्रेडिट कार्ड लोन पर बैंक द्वारा निश्चित ब्याज दर भी वसूल की जाती है। अधिकतर बैंक द्वारा क्रेडिट कार्ड लोन पर 10% से 12% तक ब्याज दर लागू की जाती है।

क्रेडिट कार्ड लोन के फायदे (Benefits of Credit Card Loan)

  • अधिकतर क्रेडिट कार्ड लोन प्री अप्रूव्ड और अनसिक्योर्ड होते हैं। इसके लिए आपको किसी भी प्रकार के कागजात और कॉलेटरल की आवश्यकता भी नहीं होती है।
  • क्रेडिट कार्ड लोन पर आप अपनी खरीदारी को मासिक किस्त में बदल सकते हैं।
  •  ज्यादातर क्रेडिट कार्ड लोन पर गारंटी या पोस्ट डेटेड चेक की जरूरत भी नहीं पड़ती है।
  • क्रेडिट कार्ड लोन का भुगतान करना भी आसान रहता है।

इसे भी पढ़े SBI E Mudra Loan Apply Online 50 000

निष्कर्ष:

दोस्तो! आज के इस महत्वपूर्ण आर्टिकल में हमने आपको क्रेडिट कार्ड के बारे में पूरी जानकारी विस्तार से उपलब्ध करवाई है जैसे कि Credit Card Kya Hota Hai, Credit Card Kaise Use Kiya Jata Hai, Credit Card aur Debit Card me Kya Antar Hai, Credit Card Ka Fayda, Credit Card Ke Nuksan, Credit Card Ke Liye Yogyata, Credit Card Banwane ke Liye Documents, Credit Card Kitne Prakar Ke Hote Hai, Credit Card Ki Sharte aur Niyam, Sabse Best Credit Card Kaun Sa Hai, Credit Card Bill Bharne ki Samay Awadhi Kya Hai, Credit Card Se Loan Kaise Milta Hai, Credit Card Loan Ke Fayde आदि।

हम आशा करते हैं कि आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी अच्छी लगी होगी। यदि आपको हमारा क्रेडिट कार्ड से संबंधित यह लेख अच्छा लगा हो तो कृपया इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ सोशल मीडिया द्वारा ज्यादा से ज्यादा साझा करें।

ताकि हर व्यक्ति तक क्रेडिट कार्ड के इस्तेमाल संबंधित सही और सटीक जानकारी पहुंच सके। वैसे तो हमने इस आर्टिकल को लिखने में पूरी सावधानी बरती है। यदि फिर भी किसी तरह की वर्तनी या आंकड़ों संबंधी त्रुटि पाई जाती है तो कृपया हमें क्षमा करने का कष्ट करें।

इसके अलावा यदि आपके मन में किसी तरह का सवाल बाकी है तो आप बेझिझक हमें कमेंट सेक्शन में पूछ सकते हैं। हम पूरा प्रयास करेंगे कि जल्द से जल्द आपकी समस्या का समाधान करने में सफल हो सके।


अपने दोस्तों के साथ शेयर करें

Check Also

Uni Credit Card Full Form Kya Hai and Online Apply Kaise Kare? Uni Credit Card Review, Eligibility, Refer and Earn Benefits, Customer Care (Toll Free) Number, etc.

Uni Credit Card Benefits and Review | यूनि कार्ड क्या है फायदे और नुकसान

अपने दोस्तों के साथ शेयर करेंUni Credit Card Full Form Kya Hai and Online Apply …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!